न्याय न मिलने पर महिला ने बच्ची संग SP ऑफिस में की आत्महत्या की कोशिश, पढ़ें पूरा मामला

0
10


रिपोर्ट- सैयद क़याम रज़ा

पीलीभीत. यूपी के पीलीभीत में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के गेट पर पीड़िता ने अपनी बच्ची व खुद पर तेल छिड़क कर आत्महत्या करने की कोशिश की है. आनन-फानन में पुलिस ने घायल महिला को जिला अस्पताल भर्ती करवाया है, जहां उसका इलाज जारी है. पीड़िता का आरोप है कि उसे हरियाणा के कुछ युवकों के साथ बेचा गया था, जिसकी शिकायत के बाद पुलिस द्बारा कार्रवाई न होने पर पीड़िता आत्महत्या की कोशिश की है.

जिला अस्पताल में भर्ती पीड़िता महिला शशि का आरोप है कि वह हरियाणा में अपने पति वीरपाल व बच्ची के साथ मजदूरी कर गुजर बसर करती थी, लेकिन शादी के कुछ दिनों बाद बीते 2020 में हरियाणा के रहने वाले जोगेंद्र नाम के शख़्स ने उसे सूर्यान्कराम के हाथों बेच दिया था, जिसने अपने साथियों के साथ मुझे कई महीनों तक अपने घर बंधक रखकर मेरे साथ दुष्कर्म किया. जब किसी तरह मैं वहां से निकल कर घटना की सूचना पुलिस को दी गई.

लेकिन, पुलिस द्वारा आरोपीयो पर कोई कार्रवाई न होने पर आरोपियों द्वारा धमकी दी जा रही थी जिससे परेशान होकर सुनवाई न होने पर पीड़िता ने अपनी आठ वर्षीय मासूम पर डीजल डालकर आत्म हत्या करने की कोशीश की। फिलहाल पूरे मामले को लेकर पुलिस मीडिया से दूरी बनाये हुए है.

पीड़िता ने कही यह बात 
वहीं पीड़िता न्याय न मिलने पर आत्महत्या की बात कर रही है. महिला का साफ तौर पर कहना है कि उसे पिछले 1 साल से न्याय नहीं मिला है वह अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काट रही है.- पुलिस ने उसके मुकदमे में अपराधियों को बचाते हुए फाइनल रिपोर्ट लगा दी है. पीड़िता ने कहा कि अब मुझे जीने से क्या फायदा? मेरे बच्चे के अलावा कोई नहीं है इसलिए मैं बच्ची के साथ मरना चाहती थी.

क्या कहते हैं डॉक्टर 
जिला अस्पताल के डॉक्टर आरके सागर का कहना है कि जहर खाई एक गंभीर महिला को स्थानीय पुलिस लेकर आई थी, जिसको इमरजेंसी में भर्ती कराया गया है और उसका इलाज जारी है.

Tags: Crime News, Pilibhit news, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here