पत्नी ने पति की मर्दानगी को ललकारा और फिर हो गई गर्भवती, कसम नहीं खाई तो कर दी हत्या

0
42


हरदोई. हरदोई (Hardoi) के मझिला थाना इलाके में एक युवक ने अपनी ही पत्नी की महज इसलिए हत्या (Wife murder) कर दी क्योंकि उसको शक था कि उसकी पत्नी किसी और के बच्चे की मां बनने वाली है. उसका मानना था कि उसकी पत्नी ने 4 साल पहले जिस बेटे को जन्म दिया वह उसका नहीं है और इसके साथ ही वह फिर से गर्भवती है, लेकिन वह भी उसका अंश नहीं है. युवक अपने आप को नामर्द समझता था और उसे जब लगा कि उसकी पत्नी गर्भवती है तो वह शक के आधार पर मजार पर पत्नी को कसम खिलाने के लिए ले गया. इसी दौरान उसने पत्नी की गला काट कर हत्या कर दी. पुलिस ने इस मामले में आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है और उसको जेल भेज दिया है. पुलिस अधीक्षक राजेश द्विवेदी ने इस मामले का खुलासा कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक 2 दिन पहले मझिला थाना क्षेत्र में एक मजार पर एक महिला की धारदार हथियार से गला काटकर निर्मम हत्या कर दी गई थी. महिला की पहचान इसी थाना क्षेत्र के ही कंजहाई गांव निवासी प्रीति पत्नी राम सेवक के रूप में हुई थी. इस मामले में पुलिस ने मृतका की मां की तहरीर पर मृतका के पति रामसेवक पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया था और फरार रामसेवक की गिरफ्तारी के लिए टीम लगाई गई थी. एसपी ने बताया पुलिस टीम रामसेवक को गिरफ्तार किया तो उसने अपनी पत्नी की हत्या की करने की बात स्वीकार की और हत्या की वजह जब उसने बताई तो सभी चौंक गए.

एसपी के मुताबिक मृतक रामसेवक का विवाह 8 वर्ष पूर्व प्रीति के साथ हुआ था. प्रीति से उसको एक 4 साल का पुत्र है जिसका नाम अंशु है. प्रीति अपने पति के साथ कम रहती थी. अपनी ससुराल सीतापुर और अब त्रिवेणी नगर लखनऊ में रह रही थी. इधर अब प्रीति एक बार फिर से जब गर्भवती हुई तो रामसेवक के दिमाग में यह बात आई यह बच्चा उसका नहीं है. इस बात को लेकर पति पत्नी के बीच विवाद हुआ तो महिला ने अपने पति को मर्दानगी को लेकर जलील किया. जिससे रामसेवक ने मन में ठान लिया कि वह अपनी पत्नी को मार देगा.

इसी क्रम में 27 मार्च की सुबह राम सेवक अपने भाई की मोटरसाइकिल मांग कर कुल्हाड़ी ले जाकर मजार के पास छिपा दी. लखनऊ में अपनी पत्नी के पास जाकर माफी मांगते हुए अपनी पत्नी और बेटे को लेकर रात में ही 9:30 बजे के आसपास शहीद बाबा की मजार पर पहुंच गया. यहां पर उसने अपनी पत्नी से कसम खाने को कहा कि उसका किसी से प्रेम संबंध नहीं चल रहा है. इस बात पर जब उसने कसम खाने से इंकार कर दिया तो रामसेवक ने पहले से छुपाई हुई रखी कुल्हाड़ी निकालकर पत्नी के ऊपर ताबड़तोड़ हमला कर दिया. इसमें उसकी मौत हो गई.

बताया गया है कि पत्नी की हत्या के बाद वह अपने पुत्र अंशु को लेकर घर पहुंचा और खून से सने कपड़े जूते कमरे में छिपा दिए. पुलिस ने उसे जिस मोटरसाइकिल के साथ गिरफ्तार किया है वह उस दिन हत्या के मामले में प्रयुक्त की हुई मोटरसाइकिल है. अभियुक्त की निशानदेही पर खून से सने कपड़े भी पुलिस ने बरामद कर लिए हैं.

आपके शहर से (हरदोई)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Hardoi crime news, Lucknow crime news, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here