पत्नी ने रेप और छेड़खानी का झूठा केस करने से किया मना तो पति ने दिया तीन तलाक, बर्बरता से पिटाई भी की

0
26


हाइलाइट्स

महिला का आरोप है कि पति लोगों पर रेप और छेड़खानी का झूठा केस दर्ज कराने का दबाव बना रहा था.
जब पत्नी ने झूठा केस करने से मना किया तो पति ने जमकर पिटाई की और तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया.

फतेहपुर. यूपी के फतेहपुर जिले में पति ने तीन तलाक देकर पत्नी को घर से निकाल दिया है. पीड़ित महिला का आरोप है कि उसका पति लोगों पर रेप और छेड़खानी का झूठा केस दर्ज कराने और ब्लैकमेलिंग का दबाव बना रहा था, जब उसने झूठा केस लिखाने से मना कर दिया तो उसे जमकर मारा पीटा और तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया. हैरानी की बात है कि जब तलाक पीड़िता मामले की शिकायत लेकर थाने पहुंची तो पुलिस ने उसकी रिपोर्ट नहीं दर्ज की, जिसके बाद पीड़िता ने एसपी से मिलकर इंसाफ की गुहार लगाई और कहा कि मेरे चार बच्चे है. मेरे पति ने मुझे तलाक दे दिया है.

पीड़िता ने पति के द्वारा की गई बर्बर पिटाई का वीडियो भी एसपी को दिखाया. वहीं एसपी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी को केस दर्ज कर कार्रवाई का आदेश दिया. एसपी के आदेश के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है. घटना हथगाम थाना क्षेत्र के मीरपारा मोहल्ले की है.

पति ने जबरन युवक के साथ कमरे में बंद किया 

बता दें, गाजीपुर थाना क्षेत्र की रहने वाली पीड़ित महिला आशिया का निकाह वर्ष 2010 में हथगाम थाना क्षेत्र के रहने वाले अफजल से हुआ था. तलाक पीड़िता आशिया ने बताया कि शादी के बाद से मेरा पति मारपीट कर प्रताड़ित करता था. चार वर्ष पूर्व मेरे पति ने मुझे व पड़ोस के युवक तौफीक को जबरन एक कमरे में बंद कर दिया था और मुझे बदनाम कर युवक को रेप के फर्जी मुक़दमे में फ़साने की धमकी देकर उससे दो लाख रूपया ले लिया था. वह दोबारा फिर से ऐसी घटना की साजिश रच रहा था. जब मैंने झूठा केस दर्ज कराने से मना कर दिया तो मुझे तीन तलाक दे दिया.

मां और भाई को भी जमकर पीटा

पीड़िता ने बातया कि जब मैंने अपने मां और भाई को फोनकर पूरी बात बताई तो वह भी घर आ गए. जब उन्होंने अफजल को समझाने की कोशिश की तो पति ने उनलोगों के सामने ही मुझे बहुत मारा पीटा और जब मेरी मां और भाई ने बीच बचाव करना चाहा तो उनकी भी जमकर पिटाई कर दी. बता दें,  पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर तफ्तीश तो शुरू कर दी है, लेकिन आधिकारिक तौर पर पुलिस अधिकारियों ने अपना बयान देने से साफ मना कर दिया है.

Tags: Fatehpur News



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here