पिटबुल कांड के बाद कुत्तों का रजिट्रेशन करवाने वालों की उमड़ी भीड़, पशु प्रेमियों ने की ये अपील

0
24


हाइलाइट्स

200 से 500 रुपए लाइसेंस शुल्क
डॉग लवर्स को जुर्माने का सता रहा है डर
लखनऊ शहर में करीब 4,000 पालतू कुत्ते हैं

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पिटबुल डॉग ने अपनी ही मालकिन को नोच-नोचकर मार डाला. इस घटना के बाद लखनऊ नगर निगम में कुत्तों का रजिट्रेशन करवाने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी है. लोग अब नगर निगम में अपने कुत्ते रजिट्रेशन करवाने के लिए पहुंच रहे है. पिछले तीन दिन में 200 से ज्यादा लोगों ने अब तक अपने कुत्तों का रजिस्ट्रेशन करा लिया है. जबकि बहुत सारे डांग लर्वस ने नगर निगम अपने कुत्ता जमा करने की अपील की है. अब तक नगर निगम में पंजीकृत कुत्तों की संख्या 5000 से ज्यादा हो गई है. दरअसल, लोगों को यह डर सताने लगा है कि उनका कुत्ता अगर किसी को काट लेता है तो उनको 5000 रुपए का जुर्माना देने के बाद जेल भी जाना पड़ सकता है. बता दें कि इस घटना के बाद लखनऊ नगर निगम प्रशासन ने एडवाइजरी जारी की थी.

नगर निगम के नियमों के अनुसार अगर किसी पालतू जानवर कुत्ता या बिल्ली का रजिस्ट्रेशन नहीं है और वह किसी को काटता है तो इसके लिए मालिक जिम्मेदार है. उसके खिलाफ मुकदमा हो सकता है. इसके अलावा नगर निगम को 5000 रुपए का जुर्माना अलग दे देना पड़ेगा. इसी डर की वजह लोगों का रजिस्ट्रेशन बढ़ गया है. लखनऊ नगर निगम रिकॉर्ड के मुताबिक, शहर में करीब 4,000 पालतू कुत्ते हैं. पिछले साल लगभग 2,500 पालतू कुत्तों के मालिकों ने लाइसेंस लिया.

BSP प्रमुख मायावती बोलीं- मेरे रिश्‍तेदार भी मतलबी; स्वार्थी लोगों की कमी नहीं

इससे पहले लखनऊ के नगर आयुक्त इंद्रजीत ने खतरनाक डॉग ब्रीड को पालने से बचने की अपील की है. और फ्रेंडली छोटी ब्रीड के कुत्ते पालने की सलाह दी. आयुक्त इंद्रजीत ने कहा कि कुत्ते के स्वभाव पर ध्यान रखना, अगर कोई बदलाव दिखे तो तुरंत पशु चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए. आयुक्त इंद्रजीत ने कहा कि प्रशिक्षित कुत्तों को पालना चाहिए, उनके खानपान की पूरी व्यवस्था की जानी चाहिए, खाते समय छेड़खानी न करें और मांसाहार भोजन देने से बचना चाहिए. लखनऊ नगर निगम ने डॉग लाइसेंस न लेने वालों पर 5000 रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान रखा है.

Tags: Dog Lover, Lucknow news, Municipal Commissioner, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here