पीएम मोदी ने किया 100 लाख करोड़ के ‘पीएम गति-शक्ति’ राष्ट्रीय मास्टर प्लान का शुभारंभ

0
16


PM GatiShakti National Master Plan: पीएम नरेंद्र मोदी ने आज महाअष्टमी के अवसर पर देश में 100 लाख करोड़ की लागत के ‘पीएम गति-शक्ति’ राष्ट्रीय मास्टर प्लान का शुभारंभ कर दिया है।

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज महाअष्टमी के अवसर पर 13 अक्टूबर को दिल्ली के प्रगति मैदान से देश में ‘पीएम गति-शक्ति’ राष्ट्रीय मास्टर प्लान का शुभारंभ कर दिया है। 100 लाख करोड़ रुपये लागत की इस योजना के शुभारंभ के लिए आयोजित कार्यक्रम को पीएम मोदी ने संबोधित भी किया। पीएम मोदी के इस संबोधन को उनके ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर भी लाइव स्ट्रीम किया गया।

क्या है पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान?

पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान एक मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी योजना है। यह योजना रेल और सड़क सहित 16 मंत्रालयों को जोड़ने के लिए बना एक डिजिटल प्लेटफार्म है जिससे इंफ्रास्ट्रक्चर के बुनियादी ढांचे के विकास को रफ्तार मिलेगी। पीएम नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2021 को भारत देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले से पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान की घोषणा की थी। पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान में रेलवे, सड़क परिवहन, पेट्रोलियम, ऊर्जा, आईटी, टेक्सटाइल, पोत, उड्डयन जैसे मंत्रालय शामिल हैं।

यह भी पढ़े – आत्मनिर्भर भारत की दिशा में बड़ा कदम, पीएम मोदी ने किया भारतीय अंतरिक्ष संघ का शुभारंभ

पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान के मुख्य लक्ष्य

  • इस योजना से देश में साल 2024-25 तक एयरपोर्ट/हेलीपोर्ट/वॉटर एयरोड्रम्स की संख्या बढ़कर 220 हो जाएगी। इसमें 109 नए एयरपोर्ट, देश में मौजूद 51 एयरस्ट्र‍िप के विकास का काम, 18 नए प्रोजेक्ट, 12 वॉटर एयरोड्रम और 28 नए हेलीपोर्ट शामिल होंगे।
  • इस योजना से देश में रक्षा उत्पादन में भी तेजी आएगी।
  • इस योजना से देश में साल 2024-25 तक देश में गैस पाइपलाइन नेटवर्क को 34,500 किलोमीटर तक कर दिया जाएगा।
  • इस योजना से करीब 20,000 करोड़ रुपये के 2 डिफेंस कॉरिडोर उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में बनाए जाएंगे।
  • इस योजना से साल 2027 तक हर राज्य को नेचुरल गैस पाइपलाइन से जोड़ा जाएगा।
  • इस योजना से साल 2024-25 तक भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के राष्ट्रीय राजमार्गों का दो लाख किलोमीटर लंबाई तक विस्तार किया जाएगा।
  • इस योजना से यूपी के दादरी, कर्नाटक के तुमुकुर, महाराष्ट्र के बिडकिन और एक अन्य जगह चार इंडस्ट्रियल नॉड बनाने का प्रस्ताव है।
  • इस योजना से साल 2024 तक देश में दूरसंचार विभाग द्वारा 35 लाख किलोमीटर का ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क बिछाया जाएगा।
  • इस योजना से ऊर्जा मंत्रालय के द्वारा देश में ट्रांसमिशन नेटवर्क बढ़ाकर 4.52 लाख किलोमीटर सर्किट तक किया जाएगा।
  • इस योजना से फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री द्वारा देश में करीब 200 मेगा फूड पार्क बनाए जाएंगे।
  • इस योजना से देश में फिशिंग क्लस्टर बढ़ाकर 202 तक किए जाएंगे।
  • इस योजना से देश में 15 लाख करोड़ के टर्नओवर वाले 38 इलेक्ट्रॉनिक क्लस्टर बनाए जाएंगे।
  • इस योजना से देश में 90 टेक्सटाइल क्लस्टर बनाए जाएंगे।
  • इस योजना से देश में 110 फार्मा एवं मेडिकल डिवाइस क्लस्टर बनाए जाएंगे।
  • इस योजना से देश में साल 2024-25 तक रेलवे की कार्गो हैंडलिंग क्षमता को बढ़ाकर 1600 मीट्रिक टन तक किया जाएगा।
  • इस योजना से देश में 11 इंडस्ट्रि‍यल कॉरिडोर का निर्माण भी किया जाएगा।
  • इस योजना से देश में करीब 1.7 लाख करोड़ रुपये के डिफेंस उत्पादों का उत्पादन होगा और इनका करीब 25% हिस्सा निर्यात किया जाएगा।
  • इस योजना से देश में गंगा नदी में 29 MMT क्षमता की और अन्य नदियों में 95 MMT क्षमता की कार्गो ढुलाई की जाएगी। साथ ही समुद्री बंदरगाहों से साल 2024-25 तक 1,759 MMT प्रति साल की ढुलाई की जाएगी।

screenshot_2021-10-13_imgonline-com-ua-resize-ixzqeoq_1.png

पीएम गति-शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान की खास बातें

  • इस योजना से देश में जारी योजनाओं के लागत और क्रियान्वयन में लगने वाला खर्च कम होगा।
  • इस योजना से देश की कई एजेंसियों के बीच उचित समन्वय भी बनेगा।
  • इस योजना से रोज़गार के नए अवसर पैदा होंगे।
  • इस योजना से स्वच्छ ईंधन का इस्तेमाल होगा, जिससे जलवायु में सुधार होगा।
  • इस योजना से देश की आपूर्ति की क्रियाविधि सुधरेगी।
  • इस योजना से स्थानीय वस्तुओं का विश्व स्तर पर महत्व बढ़ेगा।
  • इस योजना की मॉनिटरिंग सैटेलाइट से होगी।
  • इस योजना की मदद से देश में लागू अन्य योजनाएं फाइल्स में नहीं अटकेगी।
  • इस योजना से देश के विभागों में आपसी तालमेल बढ़ेगा।

screenshot_2021-10-13_ani_1.png

यह भी पढ़े – पीएम मोदी ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के स्थापना दिवस कार्यक्रम को किया संबोधित, विपक्ष पर भी साधा निशाना

राजनीतिक फायदा

पीएम मोदी का यह प्रोजेक्ट राजनीतिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है। इस योजना के तेज़ी से काम करने से पीएम मोदी को 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में भी मज़बूती मिलेगी और उनके लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने की संभावना भी बढ़ेगी।

यह भी पढ़े – अमित शाह ने कहा- “नरेंद्र मोदी 2024 में फिर से चुने जाएंगे प्रधानमंत्री”





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here