फतेहाबाद में धीमी पड़ी वैक्सीनेशन की रफ्तार, खत्म हुआ वैक्सीन का स्टॉक-Corona Vaccination slowed down in Fatehabad vaccine stock finished hrrm– News18 Hindi

0
21


फतेहाबाद. कोरोना की तीसरी लहर कभी भी दस्तक दे सकती है. विशेषज्ञों लगातार कह रहे हैं कि कोरोना की तीसरी लहर से बचने का एक ही तरीका है वह है अधिक से अधिक लोगों को कोरोनारोधी टीका लगाना. अगर विशेषज्ञों की बातें सही है तो वैक्सीनेशन (Vaccination) के मामले में फतेहाबाद के हालत बेहद पतली है, क्योंकि फतेहाबाद जिले में वेक्सीन ही नहीं है. स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के अधिकारियों की मानें तो बीते दिनों विभाग को 9 हजार के करीब डोज प्राप्त हुई थी, जोकि पूरे जिले में लगा दी गई हैं. मौजूदा स्थिति में जिले में वैक्सीन का स्टॉक निल है.

एक तरफ से स्वास्थ्य विभाग जगह जगह केंप लगाकर अधिक से अधिक लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने का प्रयास कर रही है. वहीं वैक्सीन की कमी उसके इस प्रयास में रोड़ा अटकाए हुए है. जिले में अब तक कुल टारगेट का पचास प्रतिशत लोगों को भी पहले डोज नहीं लग पाई है. विभाग की मानें तो जिले में उनका टारगेट 6 लाख लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने का है, मगर अब तक केवल 2 लाख 14 लोगों को ही पहली डोज लग सकी है. जोकि कुल टारगेट का पचास प्रतिशत भी नहीं है.

वहीं वैक्सीन की आए दिन कमी के कारण लोगों को भी वापस लौटना पड़ रहा है. कैंपों में उमड़ रही लोगों की संख्या के अनुरूप वैक्सीन की डोज न मिल पाने के कारण लोगों को केंपों से वापस लौटना पड़ता है या फिर घंटों इंतजार करना पड़ता है. जिला वैक्सीनेशन अधिकारी डॉ. सुनीता सोखी का कहना है कि पिछले महीनों की तुलना में अब लोगों में वैक्सीनेशन को लेकर जागरुकता आई है. अब अधिक से अधिक लोग कोरोना का टीका लगवाना चाहते हैं. मगर उनके पास वेक्सीन की कमी लगातार बनी हुई है.

उन्होंने कहा कि अगर सरकार और विभाग उन्हें पर्याप्त डोज उपलब्ध करवा दे तो केवल एक माह में ही वे टारगेट के करीब पहुंच सकते हैं. उन्होंने माना कि वैक्सीन की शार्टेज उनके अभियान में बाधक बनी हुई है. वहीं उन्होनें यह भी बताया कि उनके द्वारा सरकार को वैक्सीन की डिमांड भेजी गई है, उम्मीद है कि आज शाम तक उन्हें वैक्सीन की डोज प्राप्त हो जाएंगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here