फ्लैट-प्लाट की नीलामी से वसूले जाएंगे 500 करोड़, कम पड़े तो यह भी करेगा प्रशासन

0
79


नोएडा. उत्तर प्रदेश भूसंपदा विनियामक प्रधिकरण (UP RERA) के आदेश पर 40 बिल्डर्स से करीब 500 करोड़ रुपये की रिकवरी होनी है. रिकवरी सर्टिफिकेट (RC) भी जारी कर दी गई है. लेकिन गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) प्रशासन ने बिल्डर्स (Builders) को चेतावनी जारी की है कि वो पूरी बकाया रकम जमा कराएं. अगर ऐसा नहीं करते हैं तो रकम की वसूली के लिए उनके आफिस को सील और बैंक खातों को सीज कर दिया जाएगा. गौरतलब रहे 500 करोड़ रुपये की वसूली के लिए प्रशासन ने बिल्डर्स के फ्लैट-विला और प्लाट और दुकान सील कर दिए हैं. विधानसभा चुनावों के बाद सभी की आनलाइन नीलामी की जाएगी.

500 करोड़ की प्रॉपर्टी में यह खरीदने का मिलेगा मौका

गौतम बुद्ध नगर प्रशासन ने साल 2021 में 40 बिल्डर्स की करीब 500 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति को सीज किया है. सीज संपत्ति में 350 फ्लैट, 6 प्लाट, 35 दुकानें और 69 लग्जरी विला बताए जा रहे हैं. इसमे शॉप्रिक्स मॉल की जब्त की गई दुकानें भी शामिल हैं. एडीएम फाइनेंस वंदिता श्रीवास्तव के मुताबिक सभी विला और दुकानों के साथ ही बकाएदार 40 बिल्डरों की जब्त संपत्ति की भी ई-नीलामी की जाएगी.

हालांकि चर्चा यह भी है कि आज के बाजार रेट के हिसाब से बिल्डर्स की सीज की गई संपत्ति की कुल कीमत 500 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है. अब सभी प्रॉपर्टी को ऑनलाइन नीलाम करने की तैयारी चल रही है. जानकारों की मानें तो नीलामी से जुड़ी सभी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है. शासन से भी मंजूरी मिल गई है. जिन बिल्डरर्स की प्रॉपर्टी जब्त की गई है उसमे अंतरिक्ष, केलटेक, सनवर्ड, इको ग्रीन, हैबीटेक, गायत्री, सुपर सिटी, लॉजिक्स, मस्कोट होम्स, जेएसएस बिल्डकान, न्यूटेक प्रमोटर्स शामिल हैं.

नोएडा-ग्रेटर नोएडा के कुत्तों पर भारी पड़ रही दान दाताओं की खिचड़ी, जानें वजह

प्रशासन ने इसलिए सीज की थी 500 करोड़ की प्रॉपर्टी

गौतम बुद्ध नगर प्रशासन के मुताबिक बिल्डर्स के खिलाफ यह कार्रवाई यूपी रेरा की लिखा-पढ़ी के बाद हुई है. बड़ी संख्या में फ्लैट खरीदारों को यह बिल्डर्स या तो फ्लैट पर कब्जा नहीं दे रहे थे या उनके रुपये नहीं लौटा रहे थे. रेरा ने भी बिल्डर्स को दर्जनों लैटर लिखे. लेकिन रेरा की इस कार्रवाई को बिल्डर्स ने गंभीरता से नहीं लिया, जिसका नतीजा यह निकला कि डीएम सुहास एलवाई के निर्देश पर बिल्डर्स के खिलाफ संपत्ति सीज करने की कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

इतना ही नहीं रेरा के आदेशों को न मानने वाले बिल्डर्स के खिलाफ फ्लैट खरीदार सुप्रीम कोर्ट चले गए थे. जहां खरीदारों की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने बिल्डर की प्रॉपर्टी को जब्त कर नीलाम करने की बात कही थी. गौरतलब रहे संपत्ति को सीज करने के साथ ही नोटिस भी चिपका दिए गए थे. नोटिस पर साफ तौर पर चेतावनी दी गई थी कि इस संपत्ति को जिला प्रशासन ने अपने कब्जे में ले लिया है, लिहाजा कोई भी इसकी खरीद-फरोख्त न करे. बिल्डर्स को भी चेतावनी दी गई थी कि नोटिस जारी होने के बाद वह इसकी बिक्री न करें.

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Builder Society Noida Fines, Gautam budh nagar, Supreme court of india



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here