बड़ा फैसला: रायपुर में नहीं लगेगा लॉकडाउन, सभी दुकानें शाम 6 बजे के बाद बंद, पढ़ें जरूरी गाइडलाइंस

0
11


यूपी में कोरोना की दूसरी लहर काफी तेजी से आगे बढ़ रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

Chhattisgarh News: राजधानी रायपुर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने फिलहाल लॉकडाउन (Lock Down) नहीं लगाने का फैसला लिया है. कोविड नियमों का सख्ती से पालन करने की हिदायत लोगों को दी गई है. 

रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों एक बड़ा फैसला किया गया है. सरकार ने साफ कर दिया है कि फिलहाल रायपुर में लॉकडाउन (Lock Down) नहीं लगाया जाएगा. साथ ही अब सुबह 6 से शाम 6 बचे तक ही दुकानें खुली रहेंगी. सभी तरह के स्थाई-अस्थाई दुकानों को शाम 6 बजे के बाद बंद करने के सख्त निर्देश दिए गए हैं. राजधानी के रेस्टोरेंट, बार, ढाबा को रात 8 बजे तक खुले रखने की इजाजत होगी. जिला प्रशासन ने ये आदेश जारी किया है. सरकार ने सभी जिम और स्विमिंग पूल बंद रखने का आदेश जारी किया है.  शराब दुकानों को भी शाम 6:00 बजे तक ही खुली रखने की इजाजत होगी. तेलीबांधा और बूढ़ा तालाब के आसपास की चौपाटी भी शाम 6:00 बजे के बाद बंद कर दी जाएगी. इधर, रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री रविंद्र चैबे और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने शनिवार को सिविल लाइन स्थित न्यू सर्किट हाउस के सभाकक्ष में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य शासन के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक ली. इस दौरान स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन ,पुलिस प्रशासन तथा अन्य संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की गई.

Youtube Video

 टीकाकरण का कार्य अच्छा हो रहा: स्वास्थ्य मंत्रीस्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि पूरे देश सहित अपने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. विभाग ने पिछले साल भी इस पर काबू पाने के सभी उपाय किए थे और सफल भी हुए थे. अब फिर उन्हीं गाइडलाइन्स का कड़ाई से पालन करने की जरूरत है. विशेष कर रायपुर,दुर्ग और बेमेतरा जिले में जहां पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ रही है. इसे रोकने के लिए टेस्टिंग बढ़ाने ,कान्टेक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि रायपुर जिले में मरीजों को अधिक ऑक्सीजीनेटेड बेड की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाए. स्वास्थ्य मंत्री ने कलेक्टर से जिले में किए जा रहे कार्याें की जानकारी भी ली. साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की समुचित मॉनिटरिंगऔर समय पर दवाई मुहैया कराने की बात कही. मंत्री रविंद्र चैबे ने सभी विभागीय अधिकारियों को कठिन परिस्थिति में समर्पित भाव से कार्य करने के लिए सराहना की. उन्होंने कहा कि परिस्थिति अनुरूप जिले के कलेक्टर डीएमएफ और सीएसआर मद की राशि का उपयोग कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन में नियमों का अधिक कड़ाई से पालन हो और नियमित रूप से पुलिस की पेट्रोलिंग हो.  बिना मास्क के सार्वजनिक स्थलों में आने वाले लोगों से चालान काट कर फाइन वसूली जाए. रायपुर नगर निगम  महापौर  एजाज ढेबर ने टीकाकरण पर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता बताई. उन्होंने कहा कि सभी टीकाकरण केंद्रों में टारगेट पूरे होने चाहिए. रष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला स्वास्थ्य ने प्रदेश के अस्पतालों, कोविड केयर सेंटर में उपलब्ध बेड की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि राज्य के डेडिकेटेड कोविड 33 अस्पतालों में कुल 4051 बेड हैं जिसमें 1341 ऑक्सीजीनेटेड,438 एच डीयू और440 आई सीयू बेड हैं.  65 कोविड केयर सेंटर में 8780 कुल बेेड में 1087 ऑक्सीजीनेटेड बेड हैं.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here