बसपा पर डोरे डाल रहे ओपी राजभर की चाहत होगी पूरी? यह तंज कस BSP नेता ने दिए संकेत

0
25


लखनऊ: यूपी की सियासत में ओम प्रकाश राजभर की राजनीति किस ओर करवट बैठेगी अभी इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है. अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी से नाता तोड़कर मायावती की बहुजन समाज पार्टी पर डोरे डाल रहे ओपी राजभर की उम्मीदों पर पानी फेरने की कोशिश की है और उन्हें ‘स्वार्थी’ करार दिया है. सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओम प्रकाश राजभर के समाजवादी पार्टी (सपा) से नाता तोड़कर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से संबंध बढ़ाने की कोशिशों के बीच बसपा के राष्ट्रीय संयोजक आकाश आनंद ने कहा कि ऐसे ‘स्वार्थी’ लोगों से सावधान रहने की जरूरत है.

बसपा नेता आकाश आनंद ने सोमवार को किए एक ट्वीट में किसी का नाम लिए बगैर कहा ‘बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के शासन, प्रशासन, अनुशासन की पूरी दुनिया तारीफ करती है, लेकिन कुछ अवसरवादी लोग भी बहन जी के नाम के सहारे अपनी राजनीतिक दुकान चलाने की कोशिश करते हैं. ऐसे स्वार्थी लोगों से सावधान रहने की जरूरत है.’

स्वार्थी लोगों से सावधान रहें: बसपा संयोजक का ओपी राजभर पर तंज

दरअसल, मायावती की पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक आकाश आनंद का यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर बसपा से हाथ मिलाने की ख्वाहिश जता रहे हैं. उन्होंने रविवार को जौनपुर में संवाददाताओं से बातचीत में कहा था कि उनका व्यक्तिगत रुप से मानना है कि अब बसपा से हाथ मिलाया जाना चाहिए. बता दें कि ओपी राजभर लगातार अखिलेश यादव के खिलाफ बयान देते नजर आए हैं.

ओम प्रकाश राजभर की पार्टी उत्तर प्रदेश का पिछला विधानसभा चुनाव समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर लड़ी थी और उसे छह सीटों पर जीत हासिल हुई थी. राजभर ने वर्ष 2017 का विधानसभा चुनाव भाजपा के साथ मिलकर लड़ा था और उनकी पार्टी सरकार में भी शामिल हुई थी लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मतभेदों के कारण वह सरकार से अलग हो गई थी.

Tags: Om Prakash Rajbhar, OP Rajbhar, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here