बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी से ED ने 12 घंटे की पूछताछ, हो सकती है गिरफ्तारी

0
17


प्रयागराज. पूर्वांचल के माफिया डॉन और बांदा जेल में बंद पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक अब्बास अंसारी मुश्किलों में घिरते नजर आ रहे हैं. मुख्तार अंसारी के खिलाफ दर्ज मनी लांड्रिंग के मामले में शुक्रवार सुबह 11 बजे से ईडी प्रयागराज स्थित कार्यालय में अब्बास अंसारी पूछताछ कर रही है. करीब 12 घंटे की पूछताछ के बाद रात 11 बजे पुलिस एक बार दो गाड़ियों से अब्बास अंसारी को लेकर मोतीलाल नेहरू मंडलीय चिकित्सालय काल्विन लेकर पहुंची थी, जहां पर मेडिकल कराने के बाद ठीक 12 बजे दोबारा पुलिस अब्बास अंसारी को लेकर ईडी दफ्तर पहुंच गई.

देर रात तक अब्बास अंसारी से ईडी की पूछताछ जारी थी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ईडी ने एक्सिस बैंक के कुछ अधिकारियों को भी बुलाया था जिनसे अब्बास अंसारी के बैंक खातों के बारे में देर रात तक पूछताछ की गई. ईडी ने कुछ दिनों पहले ही विधायक अब्बास अंसारी और उनकी मां अफशां अंसारी के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया था. ईडी को इस बात की आशंका थी कि मनी लांड्रिंग केस में अब्बास और अफशां अंसारी गिरफ्तारी से बचने के लिए विदेश भाग सकते हैं. ईडी ने अब्बास अंसारी के ड्राइवर रवि कुमार शर्मा से भी डेढ़ घंटे की पूछताछ की. उसका नाम और पता पूछे जाने के बाद ईडी ने उसे छोड़ दिया है, हालांकि माना ये जा रहा है कि अब्बास अंसारी की पूछताछ के बाद गिरफ्तारी भी हो सकती है.

सूत्रों के मुताबिक, अब्बास अंसारी से पूछा गया कि माफिया मुख्तार अंसारी ने इतनी बेनामी संपत्तियां कहां से अर्जित कीं? जमीन, मकान कहां-कहां हैं?  माफिया के कितने करीबी हैं?  इन करीबियों के पास कितने की संपत्ति है? ऐसे ही तमाम सवाल उससे पूछे गए, लेकिन वह सभी सवालों का गोलमोल तरीके से ही जवाब देता रहा. अब्बास से पूछताछ के साथ ही उसके ड्राइवर रवि कुमार शर्मा, निवासी करंडा, गाजीपुर से भी पूछताछ की गई. मऊ से विधायक अब्बास अंसारी के खिलाफ ईडी ने 11 अक्टूबर को लुकआउट नोटिस जारी किया था. इसका मतलब था कि वह देश छोड़कर नहीं जाएगा.

ईडी को आशंका थी कि अब्बास अंसारी देश छोड़कर भाग सकता है, इसलिए उसे लुकआउट नोटिस जारी किया गया था. प्रवर्तन निदेशालय ने इससे पहले 20 मई 2022 को मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे अब्बास अंसारी और छोटे बेटे उमर अंसारी से पूछताछ की थी. इससे पहले मुख्तार के दूसरे भाई और बीएसपी सांसद अफजाल अंसारी से भी 9 मई 22 को ईडी पूछताछ कर चुकी है. वहीं मुख्तार के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी और विधायक भतीजे शोएब अंसारी से भी ईडी ने 10 मई 2022 को पूछताछ की थी.

गौरतलब है कि ईडी ने मार्च 2021 में मुख्तार अंसारी के खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया था.

2020 में जाली दस्तावेज तैयार कर सरकारी जमीन पर कब्जा, लखनऊ में धोखाधड़ी कर संपत्ति अर्जित करने और धोखाधड़ी कर विधायक निधि निकालने के दर्ज मुकदमों को आधार बनाकर मुख्तार अंसारी के खिलाफ ईडी ने मनी लांड्रिंग का केस दर्ज किया है. ईडी मुख्तार अंसारी से भी नवंबर 2021 में बांदा जेल जाकर पूछताछ कर चुकी .

Tags: Action on Mukhtar Ansari gang, Bahubali MLA Mukhtar Ansari, Mukhtar Ansari News, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here