बिजनौर की बेटी ने अमेरिका में दी जान, अब उसकी बेटियों की वतन वापसी के लिए मोदी सरकार से गुहार

0
39


हाइलाइट्स

बिजनौर की रहने वाली मंदीप कौर की शादी साल 2015 में रनजोत सिंह से हिंदू रीति-रिवाज़ से हुई थी.
कुछ महीने बाद टूरिस्ट वीज़ा पर मंदीप कौर अपने पति के साथ अमेरिका के न्यूयार्क में रहने लगी.
पति ने कुछ दिन बाद दहेज के साथ ही भारी-भरकम पैसे की डिमांड करने लगा और पीटने लगा.

बिजनौर. पति से तंग आकर बिजनौर की रहने वाली मंदीप कौर ने अमेरिका के न्यूयॉर्क में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मृतक के परिजनों की सरकार से लाख गुहार के बाद भी उनकी बेटी का शव अपने पैतृक गांव तो नहीं पहुंचा, जबकि जल्लाद पति ने अपनी पत्नी का न्यूयार्क के न्यूजर्सी में अंतिम संस्कार कर दिया, जिसे लेकर मृतक के परिजनों ने भारत सरकार से गुहार लगाई है कि मृतक बेटी की दोनों बच्चों को सकुशल विदेश से अपने वतन वापसी कराई जाए.

बिजनौर के ताहरपुर की रहने वाली मंदीप कौर की शादी साल 2015 में रनजोत सिंह से हिंदू रीति-रिवाज़ के तहत शादी हुई थी. कुछ महीने बाद टूरिस्ट वीज़ा पर मंदीप कौर अपने पति के साथ अमेरिका के न्यूयार्क में रहने लगी. दहेज के साथ ही भारी-भरकम पैसे की डिमांड पति आए दिन करता रहता. डिमांड पूरी न होने पर पत्नी को लग बेरहमी से पीटता था, जिसकी वजह से एक अगस्त की शाम को पति से तंग आकर घर मे अकेली न्यूयार्क में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

मृतक बेटी की बेटियों को घर लाना चाहते हैं नाना-नानी
मृतक के परिजनों को भारत सरकार से बड़ी उम्मीद थी कि उनकी मृतक बेटी व दो मासूम बच्चे अपने वतन लौट आएंगे, ताकि वो अपनी बेटी का अंतिम संस्कार कर लें. लेकिन तमाम गुहार के बाद भी सरकार ने इनकी आवाज़ को शायद नही सुना, जिसका नतीजा ये रहा कि जल्लाद पति ने बड़ी होशियारी से अपनी पत्नी का अमेरिका के न्यूजर्सी में अंतिम संस्कार कर दिया. मृतक के परिजन अपनी बेटी को देखने के लिए तरस गए अब वो चाहते है कि उनकी दो मासूम बेटियों को वापस ला सकें, ताकि उनकी अच्छे से परवरिश की जा सके.

Tags: Bijnor news, Mandeep Singh, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here