बिजली के तार चोरी कर बन गए करोड़पति, अब एसओजी के हत्‍थे चढ़े 13 शातिर, जानें पूरा मामला

0
27


मेरठ. मेरठ व आसपास के जिलों में पिछले कुछ दिनों से लगातार चोरी की चौंकाने वाली वारदातें हो रही थीं. इन वारदातों में चोर घर का सामान, जवाहरात या पैसा नहीं चुराते थे, चोरी बिजली के तार चोरी कर रहे थे. और खास बात ये कि इन चोरियों को कर के वे करोड़पति बन गए थे. यहां तक की जब पुलिस ने उनको पकड़ा तो उनके पास से करीब 5.2 करोड़ रुपये का सामान और नकद बरामद हुआ. एसओजी ने मुठभेड़ के बाद इस गिरोह के 13 शातिर सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया. ये सभी हाईटेंशन टावर और तार चोरी किया करते थे.
इन चोरियों को अंजाम देने के लिए ये चोर हाईटेंशन टाव को गैस कटर से काट कर तारों को चुरा लेते थे. पूछताछ के दौरान इन्होंने बताया कि ये सभी हाईटेंशन टावर और तारों को चुराने के बाद दिल्ली और गाजियाबाद के कबाड़ियों को बेच दिया करते थे.

दिन में करते थे रैकी
इस गिरोह के सरगना जगत सिंह ने बताया कि दिन में वो अपने साथियों के बिजली की हाईटेंशन लाइनों के आस-पास कार में सवार होकर रैकी करते थे. इसके बाद वे लोग रात को वारदात को अंजाम देते थे. जगत सिंह की बताई जगह पर सभी लोग रात को इकट्ठा होते थे और अपने मोबाइल बंद कर चोरी करने के बाद मेरठ व आसपास के इलाकों में निकल जाया करते थे. जानकारी के अनुसार इन लोगों ने चोरी की वारदातों के जरिए बिजली विभाग को करोड़ाें रुपये का चूना लगाया है.

ये हुआ बरामद
गिरफ्तार आरोपितों के पास से 3.76 लाख रुपये नकद, एक तारों से भरा मिनी ट्रक, दो पिकअप जीप, दो कार, एक मोटरसाइकिल, गैस कटर, चार तमंचे और भारी मात्रा में कारतूस बरामद हुए हैं. साथ ही 80 क्विंटल बिजली के तार भी बरामद किए गए हैं. पुलिस के अनुसार इस पूरे सामान की कीमत 5 करोड़ से भी ज्यादा है. वहीं गिरफ्तार आरोपियों की पहचान जगत सिंह, अमन मलिक, रफीक अहमद, इमरान, मनीष, इमरान, रामप्रकाश उर्फ विशाल उर्फ लाला, अंकित कुमार, ईश्वर, इबरार, अरशद, वकील और प्रिन्स के तौर पर हुई है.
वहीं इलयास, शौकीन, मुस्तकीम भूरा और सज्जन खान इस दौरान पुलिस की पकड़ से बचने में कामयाब हो गए और मौके से फरार हो गए.

Tags: Crime News, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here