बिना किसी टेस्ट के कर दी 2 माह गर्भवती की नसबंदी, अब चिकित्सा विभाग ने साधी चुप्पी

0
33


महोबा. आए दिन किसी न किसी विवाद को लेकर सुर्खियों में रहने वाले महोबा महिला जिला अस्पताल ने फिर कुछ ऐसा कर दिया है कि अब चिकित्सा विभाग ने चुप्पी साध ली है. यहां पर एक गर्भवती महिला की नसबंदी कर दी गई जो उसकी जान पर भी भारी पड़ सकती थी. गर्भवती होने की बात पता चलने पर महिला घबरा गई और डॉक्टर के पास पहुंची लेकिन वहां से उसे कोई जवाब नहीं मिला, इसके बाद महिला ने सरकारी चिकित्सालय में भी इस संबंध में शिकायत की लेकिन उसका भी कोई फायदा नहीं हुआ. न तो महिला अस्पताल में मौजूद डॉक्टर पर कोई कार्रवाई की गई न ही वहां की नर्स पर. अब जिला महिला अस्पताल में काबिज चिकित्‍सक इस पूरे प्रकरण पर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं.

महिला को ही करवानी थी नसबंदी
महिला ने बताया कि उसके पहले से तीन बच्चे हैं और इसी के बाद उसने नसबंदी करवाने का फैसला किया. जिसके बाद वो सरकारी अस्पताल पहुंची और डॉक्‍टर से मिली. जिसके बाद महिला चिकित्सालय के एक डॉक्टर ने बिना किसी परीक्षण के महिला की सीधे नसबंदी कर दी. ‌इसके कुछ दिन बाद महिला को दो माह की गर्भवती होने की जानकारी मिली. इसके बाद महिला चिकित्सक से भी मिली लेकिन उसकी किसी भी तरह की मदद नहीं मिली.

अब मामले ने पकड़ी तूल
अब तक महिला को किसी भी तरह की मदद नहीं मिलने के बाद उसने मामले की शिकायत अब डीएम से करने का निर्णय लिया है. महिला के साथ हुई लापरवाही की खबर मिलते ही कई संगठनों ने भी मामले को उठाया है और लापरवाह डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं. वहीं महिला का अरोप है कि तमाम शिकायतों के बावजूद भी लापरवाह डॉक्टर और नर्स पर किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है. महिला ने प्रशासन से अपील की है कि उसे न्याय मिले और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए.

आपके शहर से (महोबा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Mahoba crime news, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here