बिहार के इस बाढ़ प्रभावित इलाके में हुई “नौका पर टीका” सिस्टम की शुरूआत, जानें खासियत nauka pr tika vaccination service started for flood effected areas of bihar bramk– News18 Hindi

0
25


खगड़िया. बिहार के कुछ इलाकों में नाव की मदद से वैक्सीनेशन का काम किया जा रहा है. दरअसल खगड़िया (Khagaria) जिले में हर साल बाढ (Bihar Flood) आती है, ऐसे में बाढग्रस्त इलाके स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बन जाते है. लेकिन कोरोना टीकाकरण अभियान के तहत बाढ़ प्रभावित इलाकों के लोगों में शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए खगड़िया जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने टीका वाली नाव को रवाना किया है. खगड़िया डीएम आलोक रंजन घोष ने इस नाव को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

खगड़िया में कोशी, बागमती, बूढी गंडक सहित अधिकांश नदियां उफान पर हैं, ऐसे में बाढ़ग्रस्त इलाकों में नदी पार रहने वाले लोगों को कोरोना का टीकाकरण करना जिला प्रशासन के लिए एक बड़ी चुनौती है, ऐसे में खगड़िया सदर प्रखंड के बाढ प्रभावित उतरी माङर और रसौंक पंचायत के बाढ़ पीड़ितों के लिए नौका के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग की कोरोना का टीका दे रही है. जैसे-जैसे अन्य प्रखंडो में बाढ का पानी प्रवेश करेगा उसके बाद वहां भी इस तरह की नाव की शुरुआत की जाएगी क्योंकि खगड़िया जिले में लम्बे समय तक बाढ का पानी रहता है.

क्या खासियत है इस चलंत नौका की
कोरोना का टीका के साथ-साथ इस नाव पर प्राथमिक उपचार के लिए सभी कीट रखे हुए हैं. नौका को सुसज्जित तरीके से बनाया गया है. नौका पर सभी स्वास्थ्यकर्मियों को लाइफ जैकेट भी दिया गया है.खगड़िया डीएम आलोक रंजन घोष ने बताया कि कई जगह सिर्फ नाव से ही पहुंचा जा सकता है, ऐसे में इस नाव से काफी मदद मिलेगी. इस नौका पर मेडिकल टीम तैनात है. यह नौका एंबुलेंस का भी काम करेगी और आवश्यकता पड़ने पर मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में सहायता करेगी और यह प्रतिदिन संचालित की जाएगी.

आपको बता दें कि खगड़िया में पिछले साल भी डीएम आलोक रंजन घोष ने खुद पहल करते हुए बाढग्रस्त इलाकों के लिए बोट बाली एंबुलेंस की शुरुआत करवाई थी. इस बोट एंबुलेंस पर ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ-साथ डाॅक्टर और स्वास्थ्यकर्मी के साथ साथ पूरी मेडिकल टीम तैनात थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here