बिहार में चुनाव से पहले नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, जंगल से मिला तबाही का जखीरा

0
6


बिहार के जमुई से बरामद विस्फोटक के साथ सुरक्षा बल के जवान

Bihar Election 2020: बिहार में चुनाव से ठीक पहले जमुई से मिले विस्फोटक के जखीरे को सुरक्षा बल बड़ी कामयाबी मान रही है. जिस इलाके से पुलिस को ये सफलता मिली है वो झारखंड से सटा है.

जमुई. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) से ठीक पहले सुऱक्षा बलों को नक्सलियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है. जमुई के जंगल मे विस्फोटक (Explosive) बरामद कर सुरक्षा बलों ने माओवादियों (Anti Naxal Operation) के मंसूबे पर पानी फेर दिया है. पुलिस बल ने जंगल मे छिपा कर रखे गए तीन कंटेनर से 40 किलो विस्फोटक बरामद किया है. सर्च अभियान के दौरान पुलिस ने यह सफलता झाझा थाना इलाके के माणिकथान जंगल से हासिल की है.

नक्सली कमांडर पिंटू राणा की मौजूदगी की सूचना पर चला था सर्च अभियान

बताया जा रहा है कि विस्फोटक नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के द्वारा जंगल में रखा गया था. जंगल के बीच में गड्ढा खोदकर अलग-अलग कंटेनर में यह विस्फोटक रखे गए थे. बरामद विस्फोटक की मात्रा लगभग 40 किलो बताई गई है. चुनाव के दौरान विस्फोटक बरामद की कार्रवाई जमुई जिला पुलिस के द्वारा यह एक बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है. बताया जा रहा है कि नक्सली कमांडर पिंटू राणा अपने दस्ते के साथ उस जगह पर पहुंचा था. फिलहाल जो विस्फोटक को पुलिस ने बरामद किया है इस विस्फोटक का दुरुपयोग कर नक्सली किसी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले थे.

ये भी पढ़े  चिराग पासवान बोले- सरकार बनी तो सात निश्चय योजनाओं की कराएंगे जांच

बड़ी घटना को अंजाम देने की थी तैयारी

पिंटू राणा के दस्ते के पहुंचने के सूचना के बाद ही जंगल में सर्च अभियान चलाया गया था. सर्च अभियान में सीआरपीएफ, एसटीएफ और जिला पुलिस के जवान शामिल थे जिसका नेतृत्व एसपी अभियान सुधांशु कुमार कर रहे थे. जमुई एसपी प्रमोद कुमार मंडल ने जानकारी दी है कि एसपी अभियान के नेतृत्व में यह कार्रवाई की गई है जिसमें सीआरपीएफ, एसटीएफ और जिला पुलिस बल शामिल थे. नक्सलियों ने इस विस्फोटक को जंगल में छिपा कर रखा था ताकि वह किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सके.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here