बिहार में तिरंगा फहराने के दौरान पाइप में करंट से बच्चे की मौत, कई झुलसे | death kid due to electric shock during flag hoisting in bihar | Patrika News

0
190


जश्‍न और देश भक्ति के भाव में डूबे देशवासी उत्साह के साथ आज 73वें गणतंत्र दिवस मनाया। बिहार के बक्सर में झंडा फहराने के दौरान स्कूल में बड़ा हादसा हो गया। करंट लगने से एक बच्चे की मौत भी हो गई, जबकि कई बच्चे बुरी तरह घायल हो गए हैं।

नई दिल्ली

Published: January 26, 2022 01:49:59 pm

कोरोना के बढ़ते केस के बीच आज पूरे देशभर में गणतंत्र दिवस की धूम है। जश्‍न और देश भक्ति के भाव में डूबे देशवासी उत्साह के साथ आज 73वें गणतंत्र दिवस मनाया। बिहार के बक्सर में झंडा फहराने के दौरान स्कूल में बड़ा हादसा हो गया। करंट लगने से एक बच्चे की मौत भी हो गई, जबकि कई बच्चे बुरी तरह घायल हो गए हैं। घायलों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। इस घटना की जानकारी देते हुए बच्चों के परिवार वालों ने बताया कि बच्चे स्कूल में झंडा फहराने के लिए पहुंचे हुए थे, तभी झंडे वाले पाइप में करंट आ गया।

electric shock during flag hoisting in bihar

लोहे के पाइप से सटा 11000 वोल्ट का तार
बक्सर जिले के इटाढ़ी प्रखंड के नाथपुर प्राथमिक विद्यालय में गणतंत्र दिवस के अवसर पर तिरंगा फहराने के लिए लोहे की पाइप में झंडा बांधने के दौरान 3 छात्र और एक युवक 11 हजार वोल्ट के बिजली के तार की चपेट में आ गए। इससे एक बच्चे की मौत हो गई। मृत छात्र नाथपुर गांव निवासी अनिल राम का 10 वर्षीय पुत्र शुभम कुमार बताया गया है।

घायलों की स्थिति खतरे से बाहर
घायलों में दो बच्चे और एक युवक शामिल हैं। इनमें नाथपुर निवासी ददन राम का आठ साल का बेटा कृष्णा कुमार, लाल जी राम का 15 साल का बेटा इंद्रजीत कुमार और सुरेमन राम का बेटा परमेश्वर राम शामिल हैं। घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां चिकित्सा चल रही है। डॉक्टरों ने इनकी स्थिति खतरे से बाहर बताई है।

घटना के बाद जिले में हड़कंप
इस घटना के बाद जिले में हड़कंप मच चुका है, वही बच्चों के परिवार वालों का रो-रो कर बहुत बुरा हाल है। स्थानीय प्रशासन के आला-अफसर मौके पर पहुंच गए हैं और बच्चों के समुचित इलाज के लिए व्यवस्था की जा रही है।

यह भी पढ़ें

राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवा

आक्रोशित लोगों ने किया रोड जाम
इस घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने बक्सर-इटाढ़ी मार्ग को जाम आगजनी कर जाम किया। आक्रोशित लोगों ने रोड को जाम कर मृत बच्चे के परिजनों को उचित मुआवजा देने की मांग की। सदर एसडीएम धीरेंद्र कुमार मिश्रा, राजपुर विधायक विश्वनाथ राम ने घटनास्थल पर पहुंचकर सभी आक्रोशित लोगों को शांत कराया। इसके बाद से इस रोड पर वाहनों का परिचालन शुरू हो सका। एसडीएम ने बताया कि घायलों की चिकित्सा चल रही है और मृत बच्चे के परिजनों को उचित मुआवजा राशि दिलाई जाएगी।

यह भी पढ़ें

रेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठित

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here