बीजेपी की ‘सेवा ही संगठन’ ई-बुक का लोकार्पण, धनखड़ बोले- कृषि कानून पर कांग्रेस फैला रही भ्रम

0
3


नई दिल्‍ली/गुरुग्राम. कोरोना (Covid 19) महामारी के कारण हुए लॉकडाउन (Lockdown) में भाजपा (BJP) कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए सेवा कार्यों पर बनाई गई सभी 22 जिलों की ‘सेवा ही संगठन’ ई-बुक का लोकार्पण किया गया. भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ (OP Dhankar) और महामंत्री संदीप जोशी ने इस ई-बुक का लोकार्पण किया. इस ई-बुक को हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी भाषा में लॉन्‍च किया गया.

ई-बुक का लोकार्पण करते हुए प्रदेश अध्‍यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश भर में करीब 90 हजार बीजेपी कार्यकर्ताओं ने 1 करोड़ 46 लाख से ज्‍यादा खाने के पैकेट बांटे. 13 लाख 47 हजार राशन के पैकेट जरूरतमंदों तक पहुंचाए गए. इस तरह कुल मिलाकर भोजन एवं राशन के 1 करोड़ 60 लाख से भी ज्‍यादा पैकेट बीजेपी कार्यकर्ताओं की तरफ से जरूरतमंदों को वितरित किए गए.

वहीं, कार्यकर्ताओं द्वारा 12 लाख 58 हजार से ज्‍यादा फेस मास्‍क बनाकर वितरित किए गए. ट्रेनों व बसों में प्रवासी मजदूरों को 1 लाख 56 हजार से ज्‍यादा मास्‍क बांटे गए. जबकि खरीदकर लगभग 10 लाख मास्‍क बांटे गए.इस तरह कुल 21 लाख से अधिक बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा जरूरतमंदों को उपलब्‍ध कराए गए.

उन्‍होंने बताया कि इस दौरान बीजेपी की तरफ से 20 लाख सैनिटाइजर भी बांटे. मजदूरों को घर वापस जाने में मदद की. इस तरह कोरोनाकाल में अपने घरों के लिए निकले कुल 3 लाख 8 हजार से ज्‍यादा जरुरतमंदों की सहायता की गई.उन्‍होंने कहा कि भाजपा राजनीति केवल राजनीति के लिए ही नहीं करती, भाजपा की राजनीति में सदैव सेवाभाव रहा है. इस कोरोना काल में की गई सेवा एक प्रेरणा है. अकेले गुरुग्राम में ही 35 लाख से अधिक खाने के पैकेट बांटे गए.

ये भी पढ़े  पराली जलाने वाली जमीन को चिह्नित करने पहुंचे दो पटवारियों को किसानों ने बनाया बंधक

प्रदेश अध्‍यक्ष ने कहा कि कोरोना काल में हरियाणा में फंसे प्रवासी मजदूरों की मदद कर उन्‍हें सकुशल वापस उनके घर भिजवाया गया. लॉकडाउन में संपूर्ण मानवता अपने उभार पर रही. इस ई-बुक में मानवीय संवेदनाओं से जुड़ी कई कहानियां भी शामिल हैं.

धनखड़ ने कहा कि बरोदा उपचुनाव विकास के मुद्दे पर हो रहा है. वहां विकास का बड़ा अभाव था. बरोदा के लोग भी विकास चाहते हैं.

उन्‍होंने आगे कहा कि कांग्रेस किसान कानून पर भ्रम फैला रही है. इस भ्रम को हम कैसे बढ़ाते जाएं, इसके लिए उसकी तरफ से बकायदा इवेंट किए जा रहे हैं, जिसमें दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर फूंकनाभी शामिल है. पंजाब में अभी खरीफ फसल की खरीद पर केंद्र का 32 हजार करोड़ रुपया खर्च होगा. पंजाब की सरकार 1700 करोड़ से ज्‍यादा मार्किट फीस कमाएगी. इसके बावजूद भी नौटंकी जारी है. कांग्रेस ने एजेंटगिरी की है.

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने शासनकाल में किसानों को ढाई-ढाई रुपये के चैक दिए गए थे. उनके पास मुद्दे नहीं बचे हैं. राहुल गांधी अगर हरियाणा आएं तो अकेले न आएं, उन्‍हें भी साथ लाएं, जिन्हें किसानों की जमीने बेजां दी गईं.

इस ई-बुक को बनाने के लिए प्रदेश स्‍तर पर 5 सदस्‍यीय निर्माण समिति बनाई गई थी. जिसमें प्रदेश महामंत्री वेदपाल, आईटी संयोजक अरुण यादव, सह संयोजक अरविंद सैनी, श्‍याम यादव और मीडिया प्रभारी रणदीप घनगस शामिल थे. ई-बुक के निर्माण में प्रदेश आईटी सेल के सह संयोजक अरविंद सैनी मुख्‍य भूमिका में रहे.

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के सेवा कार्यों पर आधारित “सेवा ही संगठन” नामक सभी ई-बुक्स को फोटो, वीडियो और संगीत से सजाया गया है. हर जिले की ई-बुक में लगभग 150 या इससे अधिक फोटो हैं और 12 या इससे अधिक वीडियो को इसमें जगह दी गई है. यानि सभी 22 जिलों की हिंदी ई-बुक की ही बात की जाए तो इनमें 3500 से अधिक फोटो और लगभग 250 वीडियो हैं. प्रदेश स्तर की ई-बुक की बात करें तो इसमें लगभग 200 फोटो और 23 वीडियो शामिल किए गए हैं.

ये भी पढ़े  बरोदा की जनता अब अपने मन की बात बताएगी: कुमारी सैलजा

इस अवसर पर महामंत्री संदीप जोशी, युवा मोर्चा अध्यक्ष मनीष यादव, आईटी प्रमुख अरुण यादव, सह प्रमुख अरविंद सैनी, श्याम, विजय, गुरुग्राम जिलाध्यक्ष गार्गी कक्कड़, विधायक सत्यप्रकाश जरावता, विधायक संजय सिंह, प्रवक्ता सूरजपाल अम्मू, पूर्व जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौहान, सूरज प्रकाश ओझा, मनीष चम, नेहा आदि मौजूद रहे.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here