बुंदेलखंड विश्वविद्यालय देगा स्टार्टअप को बढ़ावा, युवा उद्यमी बनकर देंगे रोजगार, जानें योजना

0
52


शाश्वत सिंह/ झांसी. बुंदेलखंड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश के झांसी स्थित बुंदेलखंड विश्वविद्यालय स्थित स्टार्टअप एवं इनक्यूबेशन सेंटर इसमें एक अहम भूमिका भी निभाने का दावा रहा है. प्रबंधन का दावा है कि इस इनक्यूबेशन सेंटर में लगातार नए शोध हो रहे हैं और इसके साथ ही नए स्टार्टअप को भी प्रोत्साहन दिया जा रहा है. अब उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस सेंटर को नए प्रोजेक्ट्स पर काम करने के लिए डेढ़ करोड़ रुपए की धनराशि दी गई है. सरकार द्वारा यह धन उत्तर प्रदेश स्टार्टअप नीति 2020 के तहत दिया गया है. इस बजट की मदद से विश्वविद्यालय द्वारा नए स्टार्टअप को बढ़ावा दिया जाएगा.

स्टार्टअप शुरू करने वाले युवाओं को मिलेगी मदद
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर मुकेश पांडे ने कहा कि वर्तमान समय में ऐसे सेंटर्स की आवश्यकता बहुत ज्यादा है. इस धनराशि की मदद से रोजगार के नए अवसर खोज रहे युवाओं को मदद मुहैया कराई जाएगी.इसके साथ ही बुंदेलखंड के उद्यमी भी विकास कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा वित्तीय मदद देने वाले अन्य संस्थानों को भी इनक्यूबेशन सेंटर से जोड़े जाने का प्रयास किया जा रहा है.

विद्यार्थियों को मिलेगा प्रोत्साहन
इस परियोजना के मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रोफेसर सुनील काव्या ने वित्तीय स्वीकृति पर खुशी जताई . उन्होंने कहा कि इस धनराशि से सॉफ्टवेयर, कृषि, फार्मेसी, पर्यटन, होटल प्रबंधन, इलेक्ट्रिकल, फूड टेक्नोलॉजी, आर्किटेक्चर, अर्थशास्त्र, बैंकिंग तथा फाइनेंस क्षेत्र से जुड़े युवाओं को नए अवसर मिल सकेंगे.विश्वविद्यालय से ऐसे युवा निकलेंगे जो नौकरी करने से ज्यादा नौकरी देने में विश्वास रखेंगे. इससे बुंदेलखंड में लगातार हो रहे पलायन पर भी रोक लगेगी.

Tags: Jhansi news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here