ब्लैक में बेच रहा था रेमडेसिविर इंजेक्शन, भागा बीजेपी नेता, प्रशासन ने सील किया मेडिकल स्टोर

0
121


रेमडेसिविर इंजेक्शन की ब्लैक मार्केटिंग करने वाला बीजेपी नेता भाग गया. (सांकेतिक तस्वीर)

इंदौर में BJP leader remdesivir injection की ब्लैक मार्केटिंग कर रहा था. कार्रवाई होते ही मेडिकल स्टोरी बंद कर भाग गया. प्रशासन ने medical store को सील कर दिया है. उसका लाइसेंस भी रद्द कर दिया है.

इंदौर. इंदौर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाला भाजपा नेता राजेंद्र अग्रवाल मेडिकल स्टोर बंद कर भाग गया. राजेंद्र भाजपा की पूर्व पार्षद मीना अग्रवाल का पति है. वह ढक्कनवाला कुआं इलाके में राज मेडिकल स्टोर संचालिता करता है. प्रशासन ने उसके मेडिकल स्टोर को सील कर दिया. अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर के मुताबिक मेडिकल दुकान का लाइसेंस भी सस्पेंड कर दिया गया.

दूसरी ओर मेडिकल कॉलेजों के कोविड हॉस्पिटल्स में भर्ती मरीजों के लिए राहत भरी खबर है. उन्हें रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा. चिकित्सा शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर कहा है कि सरकार इन मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन फ्री में लगवाएगी. इंदौर के MGM मेडिकल कॉलेज को नोडल बनाया गया है, जहां से प्रदेश के 14 मेडिकल कॉलेजों के कोविड अस्पतालों को इंजेक्शन दी जाएंगी.

कॉलेज को मिली 2000 इंजेक्शन की खेप

स्वास्थय विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, इंदौर में एमआर टीबी अस्पताल, एमटीएच, सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल और चेस्ट वार्ड में भर्ती मरीजों के लिए दो हजार इंजेक्शन की खेप कॉलेज को मिल चुकी है. बताया जाता है कि 9 अप्रैल को 2978, 10 अप्रैल को 1489, 11 अप्रैल को 1489, 12 अप्रैल को 1489, 13 अप्रैल को 1489 डोज मिलेंगे.रेमडेसिविर के लिए हो रही मारामारी

रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए पूरे प्रदेश में मारामारी के हालात हैं. इंदौर के अस्पताल में सुबह से ही लोग कतार में खड़े हो गए थे. सुबह 11 बजते-बजते महिला और पुरुष की अलग लाइन लग चुकी थी. पुलिस ने यहां मोर्चा संभाल लिया था और पुलिस के साये में दवाई वितरित की जा रही थी. लाइन में इतनी लंबी कि सड़क में दूर तक कतार नजर आई.

सुबह 5 बजे से आए लोग 7 से 8 घंटे तक भूखे-प्यासे इसी आस में खड़े रहे कि उन्हें इंजेक्शन मिल जाएगा. हालांकि ज्यादातर लोगों को खाली हाथ ही लौटना पड़ा. उन 116 लोगों में से कुछ को तो इंजेक्शन नसीब हो गया, जिन्हें पहले टोकन दिए गए थे. अब बचे हुए लोगों को शुक्रवार को इंजेक्शन मिलेगा. इंजेक्शन दे रहे व्यापारी का कहना है कि मांग चार गुना है, लेकिन स्टॉक उसका आधा भी नहीं मिल रहा है.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here