भारतीय बैडमिंटन टीम की कोविड-19 रिपोर्ट आई नेगेटिव, अब शुरू करेगी ट्रेनिंग

0
29


सायना नेहवाल ने वैश्विक संचालन संस्था बीडब्ल्यूएफ पर निशाना साधा था. (SAINA NEHWAL/INSTAGRAM)

सायना नेहवाल ने अपने फिजियो से मिलने की इजाजत मांगी थी और बाद में खिलाड़ियों को ट्रेनर और फिजियो की सेवा की स्वीकृति नहीं देने के लिए वैश्विक संचालन संस्था बीडब्ल्यूएफ पर निशाना साधा था.

नई दिल्ली. भारत का पूरा बैडमिंटन दल कोविड-19 (Covid-19) परीक्षण में बुधवार को नेगेटिव आया और अगले हफ्ते शुरू होने वाले योनेक्स थाईलैंड ओपन से पहले टीम ट्रेनिंग शुरू करने के लिए तैयार है. भारतीय टीम ग्रीन जोन में शामिल थी, जिसमें सभी खिलाड़ियों और हितधारकों जैसे अंपायर, लाइन जज, विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) के कर्मचारियों, थाईलैंड बैडमिंटन संघ, मेडिकल स्टाफ और टीवी प्रोडक्शन कर्मचारियों को जगह मिली है. इन सभी का बैंकॉक पहुंचने पर परीक्षण किया गया.

बैंकॉक में होने वाले एशिया चरण में दो सुपर 1000 प्रतियोगिताएं योनेक्स थाईलैंड ओपन (12-17 जनवरी) और टोयोटा थाईलैंड ओपन (19-24 जनवरी) होंगी, जिसके बाद 27-31 जनवरी तक 15,00,000 इनामी एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स खेले जाएंगे. बीडब्ल्यूएफ ने बयान में कहा कि बैंकॉक में एशियाई चरण को अच्छी खबर मिली, जब ग्रीन जोन पृथकवास में शामिल सभी 824 प्रतिभागी कोविड-19 परीक्षण में नेगेटिव पाए गए.

उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को अब कड़े सुरक्षा नियमों के साथ ट्रेनिंग करने की स्वीकृति होगी. भारतीय टीम में ओलिंपिक में जगह बनाने की दावेदार पीवी सिंधु, सायना नेहवाल और बीसाई प्रणीत जैसे खिलाड़ी शामिल हैं. इन सभी को ट्रेनिंग का समय दे दिया गया है. खिलाड़ियों ने दोपहर में पहले जिम सत्र में भी हिस्सा लिया. खिलाड़ियों को अब अपने कमरों में फिजियो की सेवा मिल सकती हैं, लेकिन नियमों के अनुसार इसके लिए उन्हें पहले समय लेना होगा.

सायना ने बीडब्ल्यूएफ पर साधा था निशानासायना ने मंगलवार को अपने फिजियो से मिलने की इजाजत मांगी थी और बाद में खिलाड़ियों को ट्रेनर और फिजियो की सेवा की स्वीकृति नहीं देने के लिए वैश्विक संचालन संस्था बीडब्ल्यूएफ पर निशाना साधा था. बीडब्ल्यूएफ ने आधिकारिक प्रतिक्रिया में कहा कि थाईलैंड बैडमिंटन संघ (बीएटी) और बीडब्ल्यूएफ को बीएआई के जरिये सायना नेहवाल का आग्रह मिला था, जिसमें उन्होंने फिजियो से मिलने की स्वीकृति मांगी थी.

यह भी पढ़ें : 

खेल के मैदान पर बड़ा हादसा, रेस के दौरान फिसलने से 25 साल के भारतीय खिलाड़ी की मौत

रानी रामपाल की अगुवाई में भारतीय महिला हॉकी टीम अर्जेंटीना रवाना

इसमें कहा गया कि बीएटी ने बीएआई और सायना नेहवाल को नियमों के बारे में सूचित किया और उन्हें बताया कि व्यवस्था के अनुसार अभ्यास शुरू (छह जनवरी से) होने पर ही खिलाड़ियों को अपने कमरों में फिजियो की सेवा लेने की स्वीकृति होगी. बीडब्ल्यूएफ ने कहा कि सूची पत्र में साफ कहा गया है कि बैंकॉक में ग्रीन जोन में शामिल सभी खिलाड़ी और कर्मचारी छह जनवरी से अभ्यास शुरू होने तक अपने कमरों में ही रहेंगे.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here