भारत चाहता है कि इमरजेंसी यूज की अनुमति से पहले लोकल स्टडी करे Pfizer

0
36


फाइजर ने भी वैक्सीन के इमरजेंसी यूज के लिए अप्लाई किया था. (फाइल फोटो)

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने एक सरकारी अधिकारी के हवाले से खबर दी है कि भारत किसी भी वैक्सीन प्रोजेक्ट को देश में इमरजेंसी यूज की अनुमति तभी देगा जब उसकी लोकल स्टडी हुई हो.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 13, 2021, 10:23 PM IST

नई दिल्ली. दवा कंपनी Pfizer को भारत में इमरजेंसी यूज की अनुमति लेने के लिए पहले स्थानीय स्तर पर स्टडी करनी होगी. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने एक सरकारी अधिकारी के हवाले से खबर दी है कि भारत किसी भी वैक्सीन प्रोजेक्ट को देश में इमरजेंसी यूज की अनुमति तभी देगा जब उसकी लोकल स्टडी हुई हो.

सीरम इंस्टिट्यूट ने भारत में की है लोकल स्टडी, भारत बायोटेक-ICMR की स्वदेशी वैक्सीन
गौरतलब है कि भारत ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रेजेनेका द्वारा विकसित की गई वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की अनुमति दी हुई. इस वैक्सीन प्रोजेक्ट में भारत का सीरम इंस्टिट्यूट भी पार्टनर है और देश में इसे कोविशील्ड के नाम से बेचा जा रहा है. इसके अलावा आईसीएमआर और भारत बायोटेक द्वारा विकसित की गई वैक्सीन कोवैक्सीन को भी इमरेजेंसी यूज की अनुमति मिली है. यह भारत की स्वदेशी वैक्सीन है.

भारत ने जिन दो वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की अनुमति दी है उन दोनों ने ही देश में ट्रायल किए हैं. सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने ऑक्सफोर्ड वैक्सीन के प्रोजेक्ट के ट्रायल भारत में करीब 1500 लोगों पर किए थे. ये ही उसके इमरजेसी यूज का आधार बना. साथ ही कोवैक्सीन की पूरी ट्रायल प्रक्रिया भारत में हुई है.Pfizer वैक्सीन को कई देशों ने इमरजेंसी यूज की अनुमति दी हुई है

हालांकि Pfizer वैक्सीन को कई देशों ने इमरजेंसी यूज की अनुमति दी हुई है. सबसे पहले ब्रिटेन फाइजर की वैक्सीन को अपने यहां इमरजेंसी यूज की अनुमति दी थी. उसके बाद अमेरिका और कनाडा जैसे देशों ने अनुमति दी. कंपनी ने भारत में इमरजेंसी यूज के लिए आवेदन किया था. लेकिन कंपनी ने अपनी वैक्सीन की भारतीय लोगों पर कोई स्टडी नहीं की है.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here