मंदिर का पुजारी ही निकला अपने बेटे का हत्यारा, पुलिस से बताई हत्या की चौंकाने वाली वजह – News18 हिंदी

0
10


सुमित भारद्वाज

पानीपत. हरियाणा के पानीपत में समालखा मंदिर में रहने वाला पुजारी ही अपने बेटे का हत्यारा निकला. पुजारी पिता ने हत्या की वारदात को 3 नवंबर को अंजाम दिया था. बेटा आदित्य पिता के कहने से नही कोई काम नहीं करता था. बल्कि उनसे बहस करता था, जिसके चलते पुजारी पिता ने बेटे को मौत के घाट उतार दिया. बेटे को मौत के घाट उतारने के बाद पिता ने 4 नवंबर को चौकी में जाकर गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी.

पुजारी की पत्नी को ही उस पर शक हुआ तो पुलिस ने गिरफ्तार किया और जब रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो पूरी वारदात का खुलासा कर दिया. कलयुगी पिता ने ही समालखा से 15 किलोमीटर दूर खेतों में ले जाकर अपने ही बेटे को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज गया.

पुलिस के मुताबिक, कलयुगी बाप ने छोटी दीपावली के दिन अपने 15 वर्षीय बेटे को घर से ले जाकर गन्ने के खेत में गला दबा कर उसे मौत के घाट उतार दिया. घटना का खुलासा करीब 11 दिन बाद पत्नी के शक करने पर हुआ. कलयुगी बाप ने बेटे की हत्या के बाद चौकी में बेटे की गुमशुदगी होने की शिकायत भी दी थी. थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नरेन्द्र ने बताया कि 4 नवंबर को चौकी समालखामें राधाकृष्णा मंदिर खटीक मोहल्ला ब्लूजे रोड पर रहने वाले डालचन्द उर्फ घनश्याम शास्त्री ने अपने बेटे 15 वर्षीय आदित्य त्रिपाठी का गुमशुदगी का केस दर्ज किया था.

पुजारी ने बेटे की हत्या कर पुलिस में दे दी गुमशुदगी

थाना प्रभारी ने बताया कि 14 नवंबर को गुमशुदा लड़के आदित्य की मां ने चौकी समालखा में आकर अपने पति पर शक जाहिर किया था. जो शक के आधार पर पुलिस ने उसके पति डालचन्द को सख्ती से पूछताछ की तो उसके पति ने बताया कि उसका लड़का आदित्य उसके कहने से काम नहीं करता था. बात-बात पर उसके साथ बहस करता था. जिससे वह काफी तंग आ चुका था.

पुलिस को पुजारी ने बताया कि उसने 3 नवंबर छोटी दिवाली वाले दिन अपने लड़के आदित्य को अपनी बाइक पर बैठाकर समालखा से करीब 15 किलोमीटर दूर गांव पत्थरगढ यमुना नदी साइड के खेतों के रास्ते जाकर गन्ने के खेत में अंदर ले जाकर गला घोटकर हत्या कर दी. उसके शव को वही डालकर आ गया था. उसी दिन से वह बेचैन था और किसी से बात नहीं करता था. जिस पर उसकी पत्नी ने लड़के के गायब होने पर उसके ऊपर शक सा करने लगी थी. इंस्पेक्टर नरेंद्र ने बताया कि आरोपी डालचंद को न्यायालय में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया. रिमांड की अवधि समाप्त होने पर डालचंद को कोर्ट द्वारा जेल भेज दिया है.

आपके शहर से (पानीपत​)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

Tags: Haryana news, Haryana police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here