मिशन 2024: भाजपा ने तय की सांसदों, विधायकों और मंत्रियों की जिम्मेदारी, 22 हजार बूथों पर नजर

0
21


हाइलाइट्स

22 हजार बूथों पर सांसदों व विधायकों द्वारा सम्पर्क का कार्य.
14 लोकसभा क्षेत्रों में आठ जुलाई से केंद्रीय मंत्रियों के प्रवास.

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले अपने संगठनात्मक ढांचे को और मजबूत करने के लिए सांसदों, विधायकों और मंत्रियों की जिम्मेदारी और जवाबदेही तय की है. लखनऊ स्थित भाजपा प्रदेश मुख्यालय में शुक्रवार को आयोजित बैठक में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व बृजेश पाठक, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल सहित अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहे.

इस बैठक में पार्टी की तेंलगाना में दो और तीन जुलाई को संपन्न राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में पारित प्रस्तावों की जानकारी दी गई. बैठक के बाद प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने बताया कि भाजपा ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत स्वतंत्रता दिवस पर प्रदेश के सभी परिवारों से तिरंगा झंडा पहुंचाने का आग्रह करने का अभियान चलाएगी. राज्य के हर घर में 15 अगस्त को तिरंगा फहरा कर आजादी के अमृत महोत्सव को यादगार बनाकर राष्ट्र प्रेम का संचार करेगी.

22 हजार बूथों पर नजर

बंसल ने मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम से लोगों को जोड़ने का आह्वान करते हुए कहा कि बूथ सशक्तिकरण अभियान के तहत भाजपा की दृष्टि से कमजोर 22 हजार बूथों पर सांसदों व विधायकों द्वारा सम्पर्क का कार्य चल रहा है, इसे और अधिक गति देना है. उन्होंने कहा कि जिन लोकसभा क्षेत्रों में भाजपा के सांसद नहीं हैं, प्रदेश के ऐसे 14 लोकसभा क्षेत्रों में आज आठ जुलाई से केंद्रीय मंत्रियों के प्रवास प्रारम्भ होंगे.

बंसल ने संगठन की आगामी कार्ययोजना को बैठक में रखते हुए कहा कि 20 जुलाई तक प्रदेश के सभी 98 संगठनात्मक जिलों में जिला बैठकें आयोजित की जाएंगी. आगे पन्ना प्रमुखों की संरचना पर फिर एक बार नए सिरे से काम किया जाना है.

सांसद और विधायकों को बूथों पर जनसंपर्क अभियान की जिम्मेदारी

इस बैठक में पार्टी के सांसद और विधायकों को बूथों पर जनसंपर्क अभियान को और अधिक गति देने की जिम्मेदारी सौंपी गई. उत्तर प्रदेश के 80 लोकसभा क्षेत्रों में 64 सीटों पर भाजपा और दो सीटों पर सहयोगी अपना दल (एस) के सांसद चुनाव जीते हैं जबकि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने 10, समाजवादी पार्टी ने तीन और कांग्रेस ने एक सीट जीती है.

भाजपा ने रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा क्षेत्र में संपन्न हुए उपचुनाव में सपा के कब्जे वाली ये दोनों सीटें जीतने के बाद 2024 में 80 में 80 सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया है. राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक में पारित किए गए आर्थिक प्रस्ताव को किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर ने प्रदेश बैठक में प्रस्तुत किया. राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेखा वर्मा ने तेलंगाना में हुई बैठक के बारे में जानकारी दी.

Tags: BJP, Lucknow news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here