मेरठ: ऑपरेशन सोतीगंज बना केस स्टडी, अब युवा पुलिसकर्मियों को दी जाएगी सीख

0
7


मेरठ. उत्तर प्रदेशे के मेरठ में स्थित सोतीगंज एक केस स्टडी बन गया है. वाहनों के अवैध कटान के लिए कुख्यात रहा सोतीगंज कैसे नया इमानदार सोतीगंज बन गया है. इसके बारे में युवा पुलिसकर्मी भी सीखेंगे. आईपीएस और सीओ चंद्रकांत मीणा ने बताया कि युवा पुलिसकर्मियों को केस स्टडी के तौर पर ऑपरेशन सोतीगंज सिखाया जाएगा. सोतीगंज की समस्या को कैसे डील किया गया, इसका प्रपोज़ल मांगा गया है. अब आने वाले दिनों में युवा पुलिसकर्मियों को बताया जाएगा समझाया जाएगा कि कैसे पुराना सोतीगंज नया सोतीगंज बन गया है.

चंद्रकांत मीणा का कहना है कि सोतीगंज में हुई कार्रवाई यूपी में अपनी तरह का अलग केस है. इसलिए इसे केस स्टडी के तौर पर युवा पुलिसकर्मियों को बताया जाएगा.

गौरतलब है कि सोतीगंज में अब तक नब्बे करोड़ की संपत्ति कुर्क हो चुकी है. सौ से ज्यादा मुकदमें लिखे गए हैं. अट्ठावन कबाडि़यों पर कार्रवाई हुई है. हाजी इकबाल और हाजी गल्ला की तीस-तीस करोड़ की प्रॉपर्टी कुर्क हो चुकी है और अभी भी कई कबाड़ियों की जांच जारी है. सीओ ने बताया कि अभी भी गोपनीय तरीके से परखा जा रहा कि अब कबाड़ी क्या कर रहे हैं. कई कबाड़ियों ने कपड़े का तो कुछ ने खाने का काम करना शुरु किया है.

गौरतलब है कि दशकों से मेरठ का ये इलाका चोरी के वहान कटान के लिए कुख्यात रहा है, लेकिन आजकल यहां की तस्वीर जुदा है. यहां अब या तो कबाड़ माफियाओं के घर पर कुर्की के बाद सील लगी हुई है या फिर दुकानों पर ताले ज़ड़े हैं. और तो और अब यहां कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकान के आगे लिख दिया है कि ‘मेरी दुकान में चोरी का सामान न बेचा जाता है न खरीदा’. इसीलिए अब सोतीगंज सिर्फ सोतीगंज नहीं एक केस स्टडी बन चुका है.

Tags: Meerut news, Sotiganj Chor Bazaar, UP police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here