मैं सीएम का PS बोल रहा हूं… पुलिस कमिश्नर से बात कराओ, और फिर हो गई गिरफ्तारी…

0
16


हाइलाइट्स

आरोपी में नशे की हालत में खुद को सीएम का पीएस बताकर किया फोन
नोएडा सीपी से बार बार बात करने की जिद पर अड़ा रहा आरोपी
शक होने पर जांच करवाई गई तो पता चला आईएएस संजय प्रसाद की तरफ से कोई कॉल नहीं किया गया

नोएडा. पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के CUG नंबर पर फर्जी कॉल करने के मामले में एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. फर्जी नंबर से व्यक्ति ने कॉल कर कहा कि वह प्रमुख सचिव के पद पर तैनात आईएएस संजय प्रसाद बोल रहा है. 3 बार एक ही नंबर से CUG पर कॉल किया गया और कहा गया कि पुलिस कमश्नर से बात कराओ. शक होने पर जांच की गई कि कॉल फर्जी है. प्रमुख सचिव की तरफ से कोई कॉल नहीं की गई. इसके बाद पुलिस कमिश्नर के पीआरओ ने सेक्टर 39 थाने में एफआईआर दर्ज करवाई गई और शख्स की गिरफ्तारी हो गई.

बता दें जानकारी पर मालूम पड़ा कि एक नशे की हालत में खुद को सीएम योगी आदित्यनाथ का पर्सनल सेक्रेटरी बताते हुए गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह से बात करने की जिद पर अड़ा था. शक होने पर जांच कराई गई तो पता चला कि प्रमुख सचिव संजय प्रसाद की तरफ से कोई भी कॉल नहीं किया गया. इसके बाद तत्काल पुलिस कमिश्नर के पीआरओ ने कोतवाली 39 में मुकदमा दर्ज कराया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया. आरोपी ने नशे की हालत में सीपी के सीयूजी नंबर पर 3 बार कॉल किया था. ‌‌

पीआरओ ने रिसीव किया था कॉल
आरोपी ने पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के सीयूजी नंबर पर कॉल करते हुए कहा कि “मैं संजय प्रसाद पीएस सीएम योगी आदित्यनाथ बोल रहा हूं”. हालांकि जब भी कॉल किया गया तब फोन पुलिस कमिश्नर के पीआरओ संजय कुमार सिंह के पास था. कॉल करने वाले युवक ने खुद को प्रमुख सचिव संजय प्रसाद बताते हुए सीपी से बात कराने को कहा. पीआरओ को कॉलर पर शक हुआ तो यह बात पुलिस कमिश्नर को बताई गई. जिसके बाद कार्रवाई की गई.

पेशे से चालाक है आरोपी कुलदीप
शक के आधार पर पुलिस जब कॉल किए गए नंबर की लोकेशन ढूंढने गई तो वह नोएडा के एक गांव छलेरा में मिली. पुलिस ने तत्काल कॉल करने वाले को गिरफ्तार कर लिया. कॉल करने वाले युवक का नाम कुलदीप है और वह पेशे से एक चालक है.

Tags: Noida news, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here