मौसम ने फिर ली करवट, उंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश के साथ हल्की बर्फबारी

0
82


मनाली में बर्फबारी से ठंड बढ़ी, पर्यटकों को ऊंचाई पर न जाने का अलर्ट 

पर्यटन नगरी मनाली सहित आस पास के क्षेत्रों में एक बार फिर मौसम ने मिजाज बदला है. मौसम के बदलते ही मनाली के उपरी क्षेत्र रोहतांग सहित आस-पास के उंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी शुरू हो गई. पर्यटाकों को ऊंचाई पर न जाने को कहा गया है.

मनाली. हिमाचल प्रदेश ( Himachal Pradesh, Manali) की पर्यटन नगरी मनाली ( Manali) सहित आस पास के क्षेत्रों में एक बार फिर मौसम का मिजाज बदलने लगा है. मौसम के करवट लेते ही मनाली के उपरी क्षेत्र रोहतांग (Rohtang) सहित आस-पास के उंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश के साथ हल्की बर्फबारी का दौर आरम्भ हो गया है. घाटी में बदल रहे मौसम ने तापमान को भी नीचे गिराया है. लोगों को सर्दी का अहसास होने लगा है और गर्म कपड़े भी निकलने शुरू हो गए हैं.

मनाली सहित आस पास के क्षेत्रों में फिजाओं में ठंडक घुलने के बाद स्थानीय प्रशासन की ओर से अलर्ट जारी किया गया है. सभी अधिकारियों को अलर्ट पर रहने के लिए कहा है और मनाली घूमने आने पर्यटकों से भी अपील की गई है कि खराब मौसम के दौरान कोई भी व्यक्ति उंचाई वाले क्षेत्रों पर न जाए. मौसम विभाग की ओर से भी सोमवार से आगामी तीन दिनों तक जिला कुल्लू में मौसम खराब रहने का अनुमान जताया गया है. ऐसे में मौसम के बदलते मिजाज को देखते हुए अब जिला प्रशासन भी अलर्ट हो गया है.

मनाली एसडीएम रमन घरसंगी ने भी घाटी में मौसम में आए बदलाव को देखते हुए मनाली घूमने आये हुए पर्यटकों व आम जनता से ऊंचाई वाले क्षेत्रों से दूर रहने को कहा है. उन्होंने कहा कि इस दौरान अटन टनल रोहतांग सहित आस -पास के उंचाई वाले क्षेत्रों का रूख न करें. उन्होंने कहा कि अटल टनल की उंचाई 10 हजार के करीब है और वंहा पर वाहनों की आवाजाही मौसम पर निर्भर रहेगी. उन्होंने कहा कि मौसम विभाग के द्वारा आगामी कुछ दिनों तक मौसम के खराब रहने की सम्भावना जताई गई है और उंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी भी हो सकती हैं. ऐसे में मनाली प्रशासन भी सभी लोगों से अपील करता है कि कोई भी व्यक्ति उंचाई वाले क्षेत्रों का रूख न करें.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here