यमुना एक्सप्रेसवे पर पुलिस स्टेशन के साथ ही हॉस्टल और बैरक की भी सौगात

0
80


नोएडा. यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) के सेक्टर्स और यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) पर कानून व्यवस्था को चुस्त बनाने और अपराधों पर लगाम लगाने लगाने के लिए पुलिस के दायरे को और बढ़ाया जा रहा है. योगी सरकार (Yogi Government) ने यमुना अथॉरिटी के प्रस्ताव पर एक्सप्रेसवे के लिए तीन पुलिस स्टेशन (Police Station) को मंजूरी दी है. जल्द ही तीन थानों को बनाने का काम शुरू हो जाएगा. इतना ही नहीं अथॉरिटी के रेजिडेंशियल और इंडस्ट्रियल सेक्टर के लिए भी 5 पुलिस थाने मंजूर किए गए हैं. वहीं महिला और पुरुष सिपाहियों के लिए बैरक, ट्रांजिट कैम्प और हॉस्टल तैयार करने की दिशा में भी काम चल रहा है. ये सभी सुविधाएं गौतमबुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) पुलिस लाइन में होंगी.

21 हजार प्लाट और फिल्म सिटी की सुरक्षा में होंगे तीन थाने

यमुना अथॉरिटी से जुड़े अफसरों की मानें तो प्लान के मुताबिक यमुना अथॉरिटी के सेक्टर-18, 20 और 22 डी में एक-एक पुलिस स्टेशन बनाया जाएगा. सभी तीन सेक्टरों में 21 हजार से ज्यादा रेजिडेंशियल प्लाट हैं. इतना ही नहीं सेक्टर-21 में विकसित होने वाली फिल्म सिटी भी इसके पास ही है. और भी दूसरे सेक्टर इससे सटे हुए हैं.

उन्हें भी इन तीनों थानों का फायदा मिलेगा. यमुना अथॉरिटी के तहत सेक्टर-29, थाना सेक्टर-25A, थाना सेक्टर-18/6D में थाना दयानतपुर के नाम से नए पुलिस स्‍टेशन का निर्माण होगा. सेक्टर-29 में मेडिकल डिवाइस पार्क का भी काम चल रहा है.

4.5 हजार हेक्टेयर में यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे बनेगा पिकनिक स्पॉट, जानें प्लान

200 बेड का हॉस्टल और बैरक का चल रहा है काम

गौतमबुद्ध नगर पुलिस लाइन में पुरुष सिपाहियों के लिए 200 बेड वाले हॉस्टल का निर्माण कार्य जारी है. पुलिस अफसरों ने मौका मुआयना कर इस काम में और तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. वहीं, महिला सिपाहियों के लिए 48 बेड की क्षमता वाली बैरक का निर्माण भी कराया जा रहा है. दूसरी ओर पुलिस लाइन में ही ट्रांजिट कैम्प भी तैयार कराया जा रहा है.

अब थाना विवाद का फायदा नहीं उठा सकेंगे अपराधी

यमुना एक्सप्रेसवे पर कभी एक्सल गैंग तो कभी बावरिया गैंग के सक्रिय होने की खबरें आती रही हैं. इसके अलावा भी कुछ इलाकाई गैंग सक्रिय होकर वारदात को अंजाम देते हैं. कुछ घटनाओं में थाना विवाद के चलते अपराधी इसका फायदा उठा ले जाते हैं. लेकिन तीन नए थाने बनने से अब इसकी भी गुंजाइश खत्म हो जाएगी. गौरतलब रहे यमुना एक्सप्रेसवे गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, हाथरस, अलीगढ़, मथुरा, आगरा समेत 6 जिलों से होकर गुजरता है. इन जिलों के संबंधित थाने एक्सप्रेसवे की सुरक्षा व्यवस्था संभालते हैं,

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Film city in up, Police Thana, Yamuna Authority, Yamuna Expressway



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here