यूपी पेपर आउट मामले के बीच नकल माफिया पर नकेल: गाजीपुर में 1.15 करोड़ की सम्पत्ति कुर्क

0
32


गाजीपुर. यूपी में हाइस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के पेपर आउट होने की घटनाओं के बीच नकल माफियाओं (UP nakal Mafia Action) के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है. गाजीपुर में बुधवार को प्रशासन ने शिक्षा माफिया के खिलाफ प्रशासन ने बढ़ा एक्शन लिया है. शिक्षा माफिया की 1.15 करोड़ की सम्पत्ति को कुर्क कर लिया गया है. उस पर वर्ष 2016 में सामूहिक नकल कराने का है केस दर्ज है.

जानकारी के मुताबिक जिला प्रशासन ने सदर कोतवाली क्षेत्र के रघुनाथपुर छावनी लाइन के रहने वाले शिक्षा माफिया महेंद्र कुशवाहा पर कानून का शिकंजा कर दिया. उसकी 1.15 करोड़ की संपत्ति को कुर्क कर लिया गया. फतेहउल्लाह पुर स्थित भूखंड की कुर्की के लिए जिला प्रशासन की ओर से मुनादी कराई गई और इसके साथ ही उसे कुर्क करने की कार्रवाई की गई है. सीओ ओजस्वी चावला ने बताया कि वर्ष 2016 में सामूहिक नकल कराने का केस दर्ज है. पुलिस प्रशासन ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कुर्की की कार्रवाई की है.

जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह के आदेश पर रविवार को सदर एसडीएम अनिरुद्ध प्रताप सिंह व सीओ ओजस्वी चावला ने नंदगंज थाना क्षेत्र के फतेउल्लाहपुर स्थित शिक्षा माफिया महेंद्र कुशवाहा की 0.4040 हेक्टेयर भूमि को कुर्क किया. इसका सरकारी कीमत लगभग 1.15 करोड़ आंकी गई. इस कार्रवाई के बाद नकल माफियाओं में हड़कंप मच गया.

गौरतलब है कि यूपी में बुधवार को ही इंटरमीडिएट अंग्रेजी की परीक्षा का पेपर आउट हो गया है. इसके पहले भी पेपर आउट होने की घटना के बाद यूपी सरकार ने कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं. इसी को लेकर गाजीपुर में नकल माफिया पर कार्रवाई की गई.

आपके शहर से (गाजीपुर)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Ghazipur news, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here