यूपी में हत्या पर बवाल: BJP की जीत पर बाबर ने बांटी थी मिठाई, पट्टीदारों ने पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, दो अरेस्ट

0
49


कुशीनगर. यूपी के कुशीनगर (Kushinagar) जिले में बीजेपी (BJP) के एक मुस्लिम कार्यकर्ता की हत्या (Murder) पर बवाल मचा हुआ है. जिले के रामकोला थाने के कठघरही गांव में मुस्लिम युवक को बीजेपी प्रचार करने और सरकार बनने पर मिठाई बांटने के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी. मुस्लिम युवक बाबर को उसके पट्टीदारों ने जमकर पिटाई की. गंभीर रूप से घायल युवक को पहले जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया, जहां से उसे  लखनऊ रेफर किया गया. इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई. घटना बीते 20 मार्च की है. मृतक का शव रविवार को गांव पहुंचा तो लोग आक्रोशित हो गए. लोगों ने शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया. मामला सत्ताधारी दल से जुड़ा होने के कारण प्रशासनिक अमला भी सक्रिय हो गया. क्षेत्रीय विधायक भी मौके पर पहुंच गए. इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

मृतक बाबर के परिजनों का कहना था कि पड़ोस में रहने वाले पट्टीदार इस बात पर नाराज थे कि बाबर भाजपा का प्रचार क्यों कर रहा है. कई बार बाबर को भाजपा का प्रचार करने से मना किया था. बाबर ने रामकोला थाने से लेकर कई अधिकारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई, लेकिन उसकी गुहार नहीं सुनी गई. रामकोला थाने द्वारा कोई सुनवाई न होने से दबंगों के हौसले बुलंद हो गए और उन्हीने बाबर को पीटकर अधमरा कर दिया था. इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. इसके बाद बाबर की पत्नी ने रामकोला थाने में तहरीर दी जिसके बाद मुकदमा दर्ज कर लिया गया.

दो आरोपी गिरफ्तार
रविवार को मौके पर पहुंचे कसया एसडीम वरुण कुमार पांडेय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी और जो दोषी होगा उसपर सख्त कार्यवाई की जाएगी. क्षेत्रीय विधयक पीएन पाठक और प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद परिजन अंतिम संस्कार करने को राजी हुए. क्षेत्रीय विधायक ने खुद मृतक बाबर के शव को कंधा दिया और बच्चों की पढ़ाई का जिम्मा भी उठाया है. एसओ डीके सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और दो आरोपियों ताहिद और आरिफ की गिरफ्तारी भी कर ली गईं है. अन्य दो की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.

बीजेपी की जीत पर बांटी थी मिठाई
दरअसल, बाबर ने 10 मार्च को भाजपा की सरकार बनने के बाद पूरे गांव में मिठाई बांटा था. इससे उसके पट्टीदार खार खाये बैठे थे. बाबर द्वारा भाजपा का प्रचार करने के दौरान ही उसके पट्टीदार कई बार धमका चुके थे. बाबर ने रामकोला थाने से लेकर कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के पास गुहार लगाई थी लेकिन कहीं उसकी बात सुनी नहीं गई. बाबर के पट्टीदार रोज उसे धमकाते थे. बीते 20 मार्च को दुकान से लौटने के बाद बाबर ने जय श्रीराम का नारा लगा दिया, उससे गुस्साए उसके पट्टीदार अजीमुल्लाह, आरिफ, ताहिद, परवेज ने अन्य साथियों के साथ उस पर हमला बोल दिया. सबने मिलकर उसकी जमकर पिटाई की. पुरुषों के साथ कई महिलाओं ने भी बाबर को जमकर पीटा. जान बचाने के लिए बाबर अपने छत पर चढ़ गया,  लेकिन वहां भी पट्टीदार पहुच गए और छत से बाबर को नीचे फेंक दिया. छत से गिरे बाबर को रामकोला सीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां से जिला अस्पताल और फिर लखनऊ रेफर कर दिया गया. लखनऊ में शनिवार को इलाज के दैरान बाबर की मौत हो गई.

सीएम योगी ने जताया शोक
मामले में रविवार को मुख्यमंत्री योगी ने ट्वीट करते हुए कुशीनगर के कठघरही गांव के बाबर की लोगों द्वारा पिटाई से हुई मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने मामले की गहनता से निष्पक्ष जांच हेतु अधिकारियों को निर्देश दिए हैं.

आपके शहर से (कुशीनगर)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Kushinagar news, UP latest news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here