राजधानी दिल्ली में टूटे कोरोना के पिछले सभी रिकॉर्ड, सामने आए 28,867 नए केस | 28867 fresh covid cases record in delhi today | Patrika News

0
19


राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में दिल्ली में आज कोरोना के मामलों ने बीते सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। सरकारी अकडों के मुताबिक दिल्ली में आज 28,867 नए मामले सामने आए हैं।

नई दिल्ली

Updated: January 13, 2022 10:52:54 pm

देश में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है वहीं देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के नये मामलों ने आज पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिये है। आज जारी हुए आंकड़ों के मुताबिक़ दिल्ली में कोरोना के 28,867 नए मामले सामने आए हैं। ये दिल्ली में किसी भी एक दिन में आये सबसे ज्यादा कोरोन मामले हैं। इससे पहले 20 अप्रैल को 28,395 केस आये थे। इसके साथ ही अब सक्रिय कोरोना मरीजों की संख्या भी 94,160 हो गयी है जो कि करीब साढ़े 8 महीने में सबसे ज़्यादा है। इससे पहले 1 मई को ये संख्या 96,747 थी।

Corona Testing

दिल्ली सरकार के द्वारा अकड़ों के मुताबिक:
दिल्ली सरकार द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक़ होम आइसोलेशन में इस वक्त 62,324 मरीज़ है। जबकि पिछले 24 घंटे में डिस्चार्ज हुए मरीज़ों का संख्या की बात करें तो ये संख्या 22,121 रही। इस बीच पिछले 24 घंटे में 98,832 टेस्ट कराये गये जिनमें से 80,417 आरटीपीसीआर टेस्ट किये गये जबकि एंटीजन टेस्ट की संख्या 18,415 रही। वहीं कंटेनमेंट जोन्स की संख्या भी बढ़कर अब 23,997 हो गयी है।

अस्पतालों में मरीजों का क्या हाल है:
दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती मरीज़ों की संख्या पर नज़र डालें तो दिल्ली में इस वक्त 2424 मरीज़ अस्पतालों में भर्ती हैं जिनमें 628 मरीज़ आईसीयू बेड पर भर्ती है तो 768 मरीज़ ऐसे है जो ऑक्सीजन बेड या वेंटिलेटर पर भर्ती है।

यह भी पढ़ें – देश में 15-18 वर्ष के 3 करोड़ से ज्यादा बच्चो को लगी वैक्सीन की पहली डोज मंत्री सत्येन्द्र जैन बोले:
बढ़ते कोरोना आंकड़ों पर जब आज दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन से सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया कि कोरोना के मामले जो बढ़ रहे है उसे देखकर घबराने की ज़रूरत नहीं है। क्योंकि टेस्ट ज़्यादा हो रहे है इसलिये केस भी ज़्यादा सामने आ रहे है।

सत्येन्द्र जैन ने कहा कि पिछले 4-5 दिनों से अस्पतालों में भर्ती मरीज़ों की संख्या एक समान बनी हुई है। उन्होंने कहा कि इनमें कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है इससे समझा जा सकता है कि अभी स्थिति ठीक है और अब मामले कम आयेंगे। सत्येन्द्र जैन ने आगे कहा कि इसे ऐसे भी समझ सकते हैं कि पीक के आसपास हम हैं और 3-4 दिनों तक ऐसी ही स्थिति बनी रही तो उम्मीद है कि कोरोना मामलों में अब आगे ढलान ही देखने को मिलेगा।

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here