राजा भैया ने विधानसभा में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव पर कसा तंज, फिर कहा कुछ ऐसा कि पूरा सदन लगाने लगा ठहाके

0
26


लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा (UP Assembly News) में मंगलवार को एक अलग ही नजारा दिखा. यहां विधानसभा के नए अध्यक्ष सतीश महाना (Satish Mahana) को बधाई देने के मौका पर सभी नेताओं ने दलीय राजनीति से बाहर निकलकर खूब हंसी-मजाक किया. सदन के नेता के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सबसे पहले विधानसभा अध्यक्ष को बधाई दी. फिर इसके बाद सपा मुखिया अखिलेश यादव ने नेता प्रतिपक्ष के रूप में महाना का अध्यक्ष के आसन पर स्वागत किया. इसके बाद बारी-बारी से अन्य दलों के नेताओं ने खड़े हुए और अपनी बात रखी. इसी कड़ी में जनसत्ता दल के नेता और कुंडा से विधायक रघुराज प्रताप सिंह (Raghuraj Pratap Singh) उर्फ राजा भैया की भी बारी आई, जिन्होंने सदन में कुछ ऐसी बातें कहीं कि पूरा सदन ठहाके लगाता दिखा.

राजा भैया ने यहां विधानसभा अध्यक्ष को अपने अंदाज में बधाई दी और फिर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव पर कटाक्ष भी कर दिया. अखिलेश यादव ने विधानसभा अध्यक्ष को बधाई देते हुए आग्रह किया था कि सदन संचालित करते समय वह (विधानसभा अध्यक्ष) विपक्ष के नेताओं को भी बोलने का मौका दें. अखिलेश की इसी बात पर राजा भैया ने अपने अंदाज में कटाक्ष किया.

राजा भैया ने कहा, ‘एक लंबे समय से आपका कार्यकाल, आपकी कार्यशैली और आपका व्यवहार देखने को अवसर मिल रहा है. 29 वर्ष हो गए हैं कि हम लोग साथ-साथ बैठे हैं. ऐसे में आपको कोई ये सलाह दे कि हमारे ऊपर भी नजर डालें… इसका औचित्य मैं अभी महसूस नहीं कर रहा हूं. क्योंकि हर दल के नेता ने आप पर विश्वास किया है, इसलिए हम मानकर चल रहे हैं कि आपकी नजर, आपका अनुग्रह और अवसर की समानता हम सबको मिलेगी.’

ये भी पढ़ें- पत्नी की बिदाई न करने से शख्स हुआ आग-बबूला, ससुर के पेट में चाकू घोंपा

राजा भैया ने हालिया विधानसभा चुनाव में छोटे दलों की स्थिति का जिक्र करते हुए कहा, ‘यह मेरा पहला ध्यानाकर्षण समझ लीजिए, सलाह देने लायक तो हम नहीं है. लेकिन राजनीतिक दलों की आप संख्यावार स्थिति पर जाएं तो या तो आपके (योगी) सहयोगी जीते हैं या आपके (अखिलेश) सहयोगी जीते हैं.’

इस दौरान संत कबीर के दोहे का जिक्र करते हुए कुंडा विधायक ने कहा, ‘कबीर दास जी का एक दोहा है कि चलती चक्की देख के दिया कबीरा रोए, दो पाटन के बीच में साबुत बचा ना कोई. एक छोटी सी संख्या, जिसमें मोना जी भी है, उमाशंकर जी भी हैं, जनसत्ता दल भी है, बहुत छोटी संख्या 5 सदस्यों की है, तो इधर भी कृपादृष्टि रहे. इधर भी आकर्षण रहे.’

राजा भैया की इस बात पर पूरा सदन ठहाके लगाने लगा. वहीं अखिलेश यादव ने टेबल पर थपकी देकर समर्थन किया तो सीएम योगी आदित्यनाथ भी जोर से हंसते नजर आए.

आपके शहर से (लखनऊ)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Akhilesh yadav, Raghuraj Pratap Singh, UP Assembly Election



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here