रामलला को दिए चैक बड़ी संख्या में हुए बाउंस, जानें क्या बोले रामजन्मभूमि ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष

0
7


अयोध्या. राम मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक सर्किट हाउस में संपन्न हो गई. बैठक के बाद श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी महाराज रामलला को मिले दान में चेक बाउंस होने पर सफाई दी. उन्होंने कहा कि दान देने वालों की भावना गलत नहीं है. कहीं न कहीं चेक देने में हुई चूक हुई है. चेक टाइम बार्ड हो गया, तारीख लिखने में गलतियां हुईं, अमाउंट लिखने में गलतियां हुईं, कुछ चेको पर हस्ताक्षर नहीं मिले. यह छोटी मोटी चूक है. कभी-कभी श्रद्धालु,अच्छे दानदाता चेक तो भेज देते हैं लेकिन गलतियों पर ध्यान नहीं देते.

गोविंद देव गिरी महाराज ने कहा कि ट्रस्ट चेक बाउंस होने में श्रद्धालुओं की दुर्भावना नहीं मानता. राम मंदिर ट्रस्ट ने श्रद्धालुओं से कोई जबरदस्ती नहीं की थी कोई वसूली नहीं की थी. दान देने के लिए सभी लोगों ने अपने इच्छा अनुरूप दान दिया था. उन्होंने कहा कि 3500 करोड़ रुपए का मामला है जहां पूरा देश दान दे रहा है तो यह छोटी-छोटी गलतियां बहुत बड़ी बात नहीं है. राम मंदिर निर्माण की प्रगति पर ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी महाराज ने कहा कि हमें विश्वास है जो हम लोगों ने समय तय किया है उस समय के अंदर भगवान रामलला को गर्भगृह में स्थापित कर देंगे. ट्रस्ट 67 एकड़ के विकास में जुटी हुई है. उसके भीतर राम मंदिर बन रहा है. इसके साथ ही सरकार भी पूरे अयोध्या के विकास में जुटी हुई है.

उन्होंने कहा कि अयोध्या में जो विकास हो रहा है और जो राम मंदिर का निर्माण हो रहा है यह दोनों एक दूसरे के अनुरूप होने चाहिए. वैसा हो रहा है कि नहीं इसलिए हम लोग बैठक में मंथन करते हैं. राम मंदिर परिसर में या अयोध्या में कोई चीज रिपीट नहीं होनी चाहिए. एक ही चीज का दो जगह निर्माण नहीं होना चाहिए. गोविंद देव ने कहा कि एक ही चीज का दो जगह निर्माण होने से उसकी उपयोगिता कम हो जाएगी. उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि अगर हम म्यूजियम दो जगह बनाएंगे तो उसका कोई मतलब नहीं होगा. इसलिए हम बैठक में यह मंथन करते हैं कि कहीं कोई निर्माण राम मंदिर परिसर के अंदर या अयोध्या शहर में दो जगह तो नहीं बन रहा है.

Tags: Ayodhya News, Ayodhya Ramlala Mandir



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here