राहुल गांधी की 14 साल पुरानी फोटो किस लिए है चर्चा में, जानें वजह…

0
64


इटावा. कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का नेतृत्व कर सुर्खियां बटोर रहे राहुल गांधी की 14 साल पुरानी तस्वीर की चर्चा इनदिनों उत्तर प्रदेश के इटावा में हर शख्स की जुबां पर है. जिसमें वो एक मासूम बच्चे को कंधे पर बैठाए हुए हैं. वर्ष 2008 में कैमरे में कैद की गयी राहुल गांधी की यह तस्वीर इकदिल थाना इलाके के अमीनाबाद गांव की है, जहां राहुल गांधी पांच दलित लोगों की हत्या के बाद संवेदना व्यक्त करने आये थे.

समाजवादी पार्टी (सपा) में शामिल हो चुके पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष उदयभान सिंह यादव ने बताया कि 2008 में पांच दलितों की हत्या के बाद इकदिल इलाके के अमीनाबाद गांव में राहुल गांधी आये थे, जहां पीडित परिवार से मिलने के बाद वे वापस लौट रहे थे कि अचानक एक आलू किसान से मिलकर उन्होंने उनका हाल चाल लिया और उसकी बेटी को अपने कंघे पर उठाकर अपनेपन का एहसास कराया. यह एक ऐसी घटना थी जिसकी चर्चा हर ओर बड़ी तेजी के साथ होना शुरू हो गई. राहुल गांधी द्वारा किसान के बेटी को कंधे पर उठाने वाली खबर न्यूज चैनलों की सुर्खियां बन गई थी.

उदयभान के मुताबिक भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के कपड़ों को लेकर भाजपा ने उन्हें निशाने पर लिया है. कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की चारों ओर चर्चा हो रही है, लेकिन सत्तारूढ दल भाजपा इस यात्रा को लेकर सवाल उठा रही है.

इटावा के वरिष्ठ पत्रकार बृजेश शुक्ला बताते हैं कि अमीनाबाद गांव में पांच दलितों की हत्या के बाद राहुल गांधी जब वापस लौट रहे थे उस समय नजदीक में आलू के खेत में कई मजदूर अपने बच्चों के साथ काम रहे थे. राहुल एकाएक इस्माइल नाम के एक किसान के खेत में जा पहुंचे और आलू खोद रहे रसीद नामक मजदूर और उसकी बीबी मुख्तरी बेगम से मिले. इस दौरान राहुल ने रसीद की 4 साल की बेटी सिमरन को अपने कंधे पर उठा लिया. यह देख हर कोई हक्का बक्का रह गया. उस समय एसपीजी सुरक्षा के बावजूद राहुल गांधी ने सुरक्षा घेरा तोड़कर पहली दफा इस तरह से लोगों के बीच जाकर नजदीकी का इजहार किया था. सिमरन अब 17 साल की हो चुकी है. वह इकदिल के ठेर मोहल्ले में अपने माता पिता के साथ रह रही है.

Tags: Etawah news, Rahul gandhi, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here