रेलवे ने भोपाल स्टेशन पर 20 स्लीपर कोच वाला आईसोलेशन ट्रेन किया तैनात- Covid 19 Railways deployed Isolation train with 20 sleeper coaches at Bhopal station NODBK

0
50


डिवीजन के डीआरएम उदय बोरवणकर ने बताया कि प्रत्येक कोच में 9 केबिन हैं.

भोपाल रेलवे स्टेशन (Bhopal Railway Station) के प्लेटफॉर्म नंबर-6 पर आइसोलेशन कोच की व्यवस्था की गई है. इन काेच में आज से आइसोलेशन की सुविधा मिलनी शुरू हो गई है.

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना वायरस (Corona virus) के रोज हजारों मरीज सामने आ रहे हैं. इससे अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की कमी हो गई है. ऐसे में जनता के बीच भय का माहौल बना हुआ है. ऐसे में हजारों कोरोना संक्रमित मरीज अपने घर से क्वारेंटीन होकर खुद से इलाज कर रहे हैं. वे दवा के साथ-साथ काड़े का सेवन कर रहे हैं. लेकिन किसी संक्रमित मरीज के पास अपने घर में जगह की कमी है तो उसके लिए रेलवे (Railway) ने एक बड़ी सुविधा तैयार की है. जानकारी के मुताबिक, भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-6 पर आइसोलेशन कोच की व्यवस्था की गई है. इन काेच में आज से आइसोलेशन की सुविधा मिलनी शुरू हो गई है. इसके लिए कोई भी शख्स ऐसे संक्रमित मरीज को यहां आइसोलेशन के लिए ला सकेगा, जिसे पॉजिटिव आने के बाद डॉक्टर्स की ओर से आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है.

कहा जा रहा है कि रेलवे की ओर से तैयार ये काेविड-19 आइसोलशन ट्रेन में 22 कोच हैं. इसमें 20 स्लीपर क्लास के कोच को पेशेंट के लिए तैयार किया गया है. वहीं,  एक पार्सल कोच बै, जिसमें दवाइयां व जरूरी सामान रखा जाएगा. वहीं, एक एसी काेच मेडिकल स्टाफ के रेस्ट के लिए रखा गया है. भोपाल डिवीजन के डीआरएम उदय बोरवणकर ने बताया कि प्रत्येक कोच में 9 केबिन हैं, इनमें 8 केबिन में मरीज और एक केबिन पैरामेडिकल स्टाफ के लिए होगा.

शनिवार को सिर्फ 5 लोगों की मौत होना बतायी गयी हैवहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि मध्यप्रदेश में कोरोना से मौत का सिलसिला जारी है. शनिवार को एक दिन में 155 लोगों कोरोना लील गया. ये भोपाल में कोरोना से मौत का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. ये सरकारी आंकड़ा नहीं है बल्कि श्मशान घाट और कब्रिस्तान में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किये गए अंतिम संस्कार का ब्यौरा है. सरकारी आंकड़े के मुताबिक, शनिवार को सिर्फ 5 लोगों की मौत होना बतायी गयी है.

 प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया था
शनिवार 24 अप्रैल को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत भोपाल में 155 शवों का अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान भदभदा विश्राम घाट में 100 और सुभाष विश्राम घाट में 40 शवों की अंत्येष्टि की गयी. झदा कब्रिस्तान में 15 शवों को दफनाया गया. हालांकि सरकारी आंकड़ों में शनिवार को सिर्फ 5 लोगों की मौत बतायी गयी. इससे एक दिन पहले 23 अप्रैल को 131 शवों का कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया था.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here