लखनऊ के कुत्ता प्रेमी राजेंद्र पांडेय की दिलचस्प कहानी, कहा- डॉगी नहीं, मेरा भतीजा है रॉनी पांडेय

0
12


रिपोर्ट: अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. किस्म-किस्म के डॉगी लवर आपने देखे होंगे. अधिकतर आपको ऐसे मिले होंगे जो अपने डॉगी को घर का सदस्य बताते हैं. लेकिन आज जिस शख्स से हम आपको मिलवाने जा रहे हैं वे अपने डॉगी को अपना भतीजा बताते हैं और उन्होंने अपने डॉगी का नामकरण ‘रॉनी पांडेय’ किया है. लखनऊ के प्रेम नगर के रहनेवाले इस शख्स का नाम है राजेंद्र पांडेय. 3 सितंबर की एक घटना को लेकर राजेंद्र पांडेय और उनका ‘भतीजा’ सोशल मीडिया पर वायरल हैं.

बता दें कि 3 सितंबर को आलमबाग के प्रेम नगर में ‘भतीजे रॉनी पांडेय’ ने एक व्यक्ति के प्राइवेट पार्ट पर काट लिया था. 3 सितंबर को आखिर क्या हुआ था यह जानने के लिए न्यूज18 लोकल की टीम प्रेम नगर स्थित राजेंद्र पांडेय के घर पहुंची. राजेंद्र पांडेय ने बताया कि 3 सितंबर को जागरण से लौट रहे उनके छोटे भाई के मित्र उन्हें बुलाने आए थे, लेकिन उन्होंने न डोर बेल बजाई न किसी को आवाज दी. बिना किसी को बताए घर के अंदर चले आ रहे थे, इसीलिए उनके ‘भतीजे रॉनी पांडेय’ ने उन्हें काट लिया.

‘कुत्ता नहीं, मेरा भतीजा है’

राजेंद्र पांडेय कहते हैं कि यह कुत्ता नहीं, मेरा भतीजा है. मेरी भाभी ने इसे मुझे उपहार में दिया था. इसका नाम है रॉनी पांडेय. रेबीज टीकाकरण के वक्त इसका यही नामकरण हुआ था. वह कहते हैं कि वह इसकी शादी भी कराना चाहते हैं लेकिन कोई मिल ही नहीं रही. उन्होंने यह भी कहा कि वे खुद कभी शादी नहीं करेंगे, क्योंकि उनकी माता का देहांत हो चुका है. अब पूरी बची हुई जिंदगी अपने ‘भतीजे रॉनी पांडेय’ के साथ बिताना चाहते हैं. उन्होंने बताया कि उनका कुत्ता बेहद धार्मिक है. माथे पर टीका भी लगाता है. दोनों शान से बाहर घूमते हैं. उसने आज तक किसी को नहीं काटा था. यह पहली घटना है.

लोग आ रहे हैं मिलने

राजेंद्र पांडेय बताते हैं कि 3 सितंबर की घटना के बाद जब सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ है, तब से कई लोग मिलने आ चुके हैं. ज्यादातर लोग उनके साथ सेल्फी खिंचवाने के लिए आ रहे हैं. हालांकि उन्होंने यह भी बताया कि इस घटना से पहले ही पूरे मुहल्ले में वे शाहरुख पांडेय के नाम से बुलाते हैं, क्योंकि वे शाहरुख खान की मिमिक्री कर लेते हैं. इसके अलावा वे माइकल जैक्सन की तरह डांस भी कर लेते हैं. इसलिए वे हमेशा आंखों पर चश्मा और माइकल जैक्सन जैसी टोपी पहने रहते हैं. उन्हें कविता लिखने का भी शौक है.

बॉलीवुड का सपना

ये अलग बात है इनकी मिमिक्री में वह प्रफेशनल टच नहीं मिलता जिससे यह उम्मीद जगे कि वे इसके बल पर कोई मुकाम हासिल कर पाएंगे. लेकिन इतना जरूर है कि उनका अनगढ़पन लुभाता है. हालांकि उनका सपना है बॉलीवुड. वे कहते हैं कि बॉलीवुड से अगर किसी अच्छे काम का ऑफर मिलेगा तो वह जरूर करेंगे.

Tags: Dog Lover, Lucknow news, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here