श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार और अस्थि विसर्जन की निगरानी करेंगे शिक्षक, जानिए SDM ने क्या निकाला आदेश

0
16


मध्य प्रदेश के धार में शिक्षक श्मशान घाटों पर करेंगे ड्यूटी. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

MP bizarre news: धार के मनावर एसडीएम ने नया फरमान जारी किया है. शिक्षक अब श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार और अस्थि विसर्जन की निगरानी करेंगे. दो शिफ्टों में 8 शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है.

  • Last Updated:
    May 3, 2021, 10:15 AM IST

भोपाल. मध्य प्रदेश के धार में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच शिक्षकों की ड्यूटी को लेकर अजीबोगरीब आदेश जारी हुआ है. उन्हें अब श्मशान घाटों में शवों के अंतिम संस्कार की पूरी निगरानी करनी है. शिक्षक श्मशान घाट के साथ अस्थि विसर्जन घाट में 2-2 शिफ्टों में ड्यूटी करेंगे. शिक्षकों को ये नया फरमान धार जिले में मनावर सब डिविजनल मजिस्ट्रेट (SDM) ने जारी किया है. SDM ने आदेश में लिखा है 8 शिक्षकों की श्मशान घाट और स्नान घाट पर ड्यूटी लगाई जाती है. इन शिक्षकों को 2 शिफ्टों में खलघाट श्मशान घाट और खलघाट स्नान घाट पर ड्यूटी करनी होगी. पहली शिफ्ट में 2 शिक्षक सुबह 6 बजे से खलघाट श्मशान घाट में दोपहर 1 बजे तक ड्यूटी करेंगे, जबकि बाकी के दो शिक्षक खलघाट स्नान घाट में ड्यूटी करेंगे. इन दोनों ही जगहों पर दूसरी शिफ्ट में चार शिक्षक दोपहर 1बजे से रात 8 बजे तक अंतिम संस्कार और अस्थि विसर्जन की निगरानी करेंगे. तत्काल प्रभाव से आगामी आदेश तक करनी होगी ड्यूटी मनावर SDM के आदेश में कहा गया है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण से ग्राम पंचायत खलघाट और धामनोद के शवों का खलघाट श्मशान घाट पर ही अंतिम संस्कार किया जाएगा. दूसरे गांवो औऱ शहरों से आने वाले शवों का खलघाट और धामनोद के शमशान घाट में अंतिम संस्कार पर प्रतिबंध रहेगा. शवों के अंतिम संस्कार की निगरानी धरमपुरी विकासखण्ड के 8 शिक्षक निगरानी करेंगे.726 शिक्षकों की हो चुकी है मौत, 2845 से ज्यादा संक्रमित गौरतलब है कि कोरोना संकटकाल के दौरान ड्यूटी पर तैनात प्रदेश भर के करीब 726 शिक्षकों की मौत हो चुकी है. जबकि, 2845 शिक्षक कोरोना से संक्रमित हैं. बड़ी संख्या में शिक्षकों की मौत और संक्रमित होने के बाद भी सरकार ने अब तक इन्हें कोरोनायोद्धा नहीं माना है. सरकार ने इन्हें कोरोना योद्धा  कल्याण योजना में शामिल नहीं किया है. कोविड वार्ड में शिक्षक कर रहे ड्यूटी
शिक्षक कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच लगातार कोविड वार्ड में ड्यूटी कर रहे हैं. मरीज को मिल रही दवाओं और उनकी स्थिति का डेटा तैयार कर रहे हैं. इसके अलावा वैक्सीनेशन को लेकर लोगों को जागरूक करना, टीकाकरण केंद्र, चेक पोस्ट, सैंपल कलेक्शन और कंटेनमेंट एरिया के सुपरविजन में भी इनकी ड्यूटी लगी है.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here