सिरसा: बार एसोसिएशन का फैसला, कोरोना में कालाबाजारी करने वालों की पैरवी नहीं करेंगे वकील

0
23


कोरोना काल में वकीलों ने लिया ये फैसला. (सांकेतिक फोटो)

वकीलों (Advocates) का कहना है कि यह ऐसा समय है जिसमें प्रत्येक व्यक्ति को अपनी नैतिक और राष्ट्रहित में जिम्मेवारी निभानी चाहिए.

सिरसा. जिला बार एसोसिएशन (Bar Association) ने आज एक  महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए कोरोना काल में कालाबाज़ारी करने वालों को झटका दिया है. कोरोना की महामारी से जूझ रही जनता के लिए वकीलों (Advocates) की प्रतिष्ठित संस्था बार एसोसिएशन का निर्णय राहत लेकर आया है. एसोसिएशन की कार्यकारिणी ने निर्णय लिया है कि जो भी व्यक्ति आपदा के इस समय में ऑक्सीजन, दवाइयों, इंजेक्शन व अन्य जरूरी चीज़ों की कालाबाजारी में संलिप्त मिला तो उसके मुकदमे की पैरवी सिरसा के वकील नहीं करेंगे. बार एसोसिएशन के सचिव सौरभ नागपाल ने बताया कि इस समय समूची मानवता महामारी के संकट का सामना कर रही है. ऐसे समय में किसी को भी जरूरी चीज़ों की कालाबाज़ारी से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि कानूनी तौर पर कालाबाज़ारी करना गलत है वहीं इंसानियत के तौर पर भी गलत है. ऐसे समय में कालाबाज़ारी करने वालों पर लगाम लगाने के लिए यह फैसला जिला बार ने लिया है. सभी से लॉकडाउन आदेशों की पालना की अपील पुलिस कालाबाज़ारी करने वालों की धरपकड़ करेगी. उनके खिलाफ मुकदमें भी दर्ज होंगे. लेकिन बार एसोसिएशन के फैसले के मुताबिक कोई वकील कालाबाज़ारी के कृत्य में संलिप्त व्यक्ति के लिए वकालत नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि यह ऐसा समय है जिसमें प्रत्येक व्यक्ति को अपनी नैतिक और राष्ट्रहित में जिम्मेवारी निभानी चाहिए. इस अपील के साथ ही जिला बार ने यह निर्णय लिया है. उन्होंने सभी से लॉकडाउन आदेशों की पालना की अपील की



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here