सीएम की चेतावनी- धर्मस्थलों में लाउडस्पीकर की आवाज धीमी रहे, नियम का पालन नहीं होने पर अफसर होंगे जिम्मेदार

0
14


हाइलाइट्स

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में हैं सीएम योगी
अधिकारियों के साथ बैठक में जताई नाराजगी

गोरखपुर: नागपंचमी के अवसर पर 2 दिवसीय दौरे में अपने गृह विधानसभा क्षेत्र गोरखपुर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां भी सक्रिय दिखे. मुख्यमंत्री ने यहां के विकास कार्यों का जायजा लिया, और उसके बाद अधिकारियों के साथ बैठक भी की. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुद्धवार को तीन घंटे से अधिक समय तक गोरखपुर मंडल की समीक्षा बैठक की. बैठक में सीएम योगी ने गोरखपुर में निर्माणाधीन आयुष विश्वविद्यालय के कार्य प्रगति को लेकर नाराजगी जताई. साथ ही बीआरडी मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक के कार्यों और कुशीनगर मेडिकल कॉलेज के निर्माण को लेकर भी नाराजगी व्यक्त की.

मुख्य सचिव को तलब किया
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी जताते हुए लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव को भी तलब किया. उन्होंने लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव को, आयुष विश्वविद्यालय, कुशीनगर मेडिकल कॉलेज तथा बीआरडी मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक के कार्यो की जांच के लिए अलग-अलग कमेटी बनाने को कहा. सीएम योगी ने मुख्य सचिव से एक सप्ताह के अन्दर रिपोर्ट देने के लिए कहा है. कार्य प्रगति को लेकर अपनी नाराजगी जताते हुए सीएम योगी ने बेहद तल्ख तेवर दिखाए हैं. उन्होंने सख्ती भरे लहजे में कहा कि लापरवाही मिलने पर एफआईआर भी दर्ज कराई जाए. सीएम ने देवरिया जिले में जल निकासी की योजना में विलंब होने की जांच करने की हिदायत भी मंडलायुक्त को दी है.

धर्मस्थलों का लाउडस्पीकर धीमा रखा जाए
सीएम योगी ने समीक्षा बैठक में कहा कि धर्मस्थलों के लाउडस्पीकर की आवाज को धीमा रखा जाए. अगर नियम का पालन नहीं होता है, तो इसके लिए एसडीएम और सीओ जिम्मेदार होंगे. सीएम योगी ने कहा कि किसी सार्वजनिक स्थान पर ताजिया आदि न रखी जाये. किसी भी शोभायात्रा में अस्त्र-शस्त्र का प्रयोग न हो, डीजे आदि की आवाज भी धीमी रहे. उन्होंने कहा कि कहीं भी टैम्पो स्थल, बस स्टेशनों पर अवैध वसूली की शिकायत न आए. यदि कहीं शिकायत मिलती है तो कठोरतम कार्रवाई के आदेश भी मुख्यमंत्री ने दिए. सीएम योगी ने जल निगम से जुड़ी परियोजनाओं, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी का हर जनपद स्तर पर सत्यापन कराने का आदेश भी दिया.

योजनाओं को सुचारू रूप से लागू करें
गोरखपुर दौरे पर आए सीएम ने कई विकास कार्यों को तीव्रता से करने के आदेश दिया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आईजीआरएस व जन शिकायतों का निस्तारण प्रभावी ढंग से किया जाए. जनप्रतिनिधि भी प्रतिदिन 2 घंटे जनसुनवाई करें और अधिकारी जनप्रतिनिधियों से प्राप्त शिकायत पत्रों का निस्तारण करते हुए जनप्रतिनिधियों को अवगत भी कराएं. मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर मंडल के चारों जनपद बाढ़ एवं सूखा के लिए अपनी पूरी तैयारी रखें. अधिक वर्षा होने पर कहीं भी जल जमाव की स्थिति न रहने पाए. सीएम योगी ने कहा कि गोरखपुर मंडल इंसेफेलाइटिस के लिए संवेदनशील है. सभी जिले अपना सर्विलांस बेहतर रखें. जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी लगातार समीक्षा करें. कोई भी मरीज 102 व 108 एम्बुलेंस के अलावा किसी अन्य साधन से न आये.

Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Gorakhpur news, Uttarpradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here