सीएम योगी ने हरिशंकरी का पौधा लगाकर शुरू किया वन महोत्सव, बोले- 6 साल में सरकार ने लगाए 100 करोड़ पौधे

0
27


चित्रकूट. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चित्रकूट पहुंचकर हरिशंकरी का पौधा लगाकर प्रदेश में वन महोत्सव कार्यक्रम का शुभारंभ किया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीकॉप्टर से मानिकपुर तहसील के सहरिन गांव पहुंचे जहां वन मंत्री अरुण सक्सेना ने उनका स्वागत किया. यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले कोदण्ड वन में हरिशंकरी का पौधा लगाया है, इसके बाद जन सभा कार्यक्रम स्थल पहुंचकर पर्यवारण प्रेमी भईयालाल को पौधा देकर उनका स्वागत किया. इसके साथ ही उन्होंने ने प्रदेश में हाईस्कूल की टॉप टेन में शामिल छात्रा के साथ कायाकल्प के तहत विद्यालयों में अच्छा काम करने वाले ग्राम प्रधानों का सम्मान किया.

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 32 करोड़ 50 लाख की लागत से परियोजनाओं का लोकार्पण एवं 81 करोड़ 45 लाख की परियोजना का किया शिलान्यास भी किया. सीएम योगी ने 15 और 28 परियोजनाओं का बटन दबाकर लोकार्पण एवं शिलान्यास किया है. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि चित्रकूट सनातन धर्म की श्रद्धा का केंद्र रहा है. यहां मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने राष्ट्र धर्म के लिए साधना की थी.

100 साल पुराने पेड़ को हेरिटेज वृक्ष की मान्यता देने की तैयारी
सीएम योगी ने कहा कि हम लोग ग्लोबल वार्मिंग की चपेट में आ रहे हैं इससे बचने के लिए हर इंसान को पौधा लगाना चाहिए. पर्यावरण संरक्षण से ही मानव प्रजाति संरक्षित रहेगी. चित्रकूट के कोदण्ड वन में रामायण कालीन पौधे लगाए जाएं. 6 सालों में सरकार ने 100 करोड़ से अधिक पौधे लगाए हैं. 100 साल से अधिक उम्र वाले वृक्षों को हेरिटेज वृक्ष की मान्यता देने की रणनीति बनाई जा रही है. वन जीव श्रष्टि के मित्र हैं, इसलिए वृक्ष मित्र बनकर, प्रकृति मित्र बनकर प्रत्येक जन पौधा लगाए.

चित्रकूट को मिलेगा एयरपोर्ट
बुन्देलखण्ड में एक एमओयू एयर पोर्ट अथॉर्टी ऑफ इंडिया से किया गया है, जल्द ही चित्रकूट से लखनऊ, दिल्ली व अन्य शहरों के लिए वायु सेवा उपलब्ध होगी. डिफेंस कॉरिडोर भी चित्रकूट में बनने जा रहा है. पिछली सरकारों ने भयावह शब्द जोड़ दिया था. आज मुझे प्रसन्नता है कि चित्रकूट डकैत मुक्त हो गया है.

Tags: CM Yogi Adityanath, Plantation, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here