सुपरटेक ट्विन टॉवर ध्वस्त, जानें क्या है नोएडा में हवा का AQI और PM लेवल

0
53


नोएडा. नोएडा में सुपरटेक के ट्विन टॉवर को रविवार को तय समय पर गिरा दिया गया. विस्फोटों के जरिए अवैध रूप से बनाए गए 100 मीटर ऊंचे सुपरटेक के ट्विन टॉवर चंद सेकंड में ही जमींदोज हो गए. ट्विन टॉवर के ध्वस्त होने के बाद आसपास का इलाका पूरी तरह से धुएं की आगोश में चला गया. हालांकि, इसके बावजूद नोएडा में वायु गुणवत्‍ता स्‍तर 114 यानि सुधारात्‍मक की श्रेणी में है, जबकि पीएम स्तर 10 पर बना हुआ है.

इस बीच, न्‍यूज 18 हिंदी से बातचीत में दिल्‍ली स्थित भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिक वी. के. सोनी ने बताया कि नोएडा में हो रहे इस ट्विन टॉवर डेमोलिशन के दौरान प्रदूषण को लेकर जो सबसे अहम भूमिका निभाएगी वह हवा की गति और उसकी दिशा होगी. उसी से यह तय होगा कि धूल और मिट्टी के कण कितनी दूरी तक जाएंगे. अभी की बात करें तो अभी नोएडा में हवा की गति 18 किलोमीटर प्रति घंटे की है. इस रफ्तार से चल रही हवा को शांत तो किसी भी कीमत पर नहीं कहा जा सकता है. लिहाजा हवा का असर तो पड़ेगा.

दूसरी ओर, सुपरटेक के टॉवर को गिराए जाने के बाद उससे सटे एमराल्ड कोर्ट में स्थित किसी भी रिहायशी इमारत को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है. सुपरटेक के ट्विन टॉवर को गिराए जाने के बाद एडिफिस, जेट डिमोलिशन, सीबीआरआई और नोएडा के अधिकारियों की टीम ने आसपास की इमारतों का ढांचागत विश्लेषण करना शुरू कर दिया है.

Tags: Supertech twin tower



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here