सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता अजय कुमार मिश्र होंगे प्रदेश के नये महाधिवक्ता

0
39


प्रयागराज. सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता अजय मिश्र को राज्य का नया महाधिवक्ता नामित किया गया है. योगी सरकार ने मंगलवार को कैबिनेट बैठक में अजय मिश्र के नाम पर मंजूरी दे दी. अजय मिश्र
देवरिया के रहने वाले हैं. अजय मिश्र पूर्व न्यायमूर्ति श्रीरंग मिश्र के सुपुत्र और न्यायमूर्ति अश्विनी कुमार मिश्र के बड़े भाई हैं. वह अभी तक सुप्रीम कोर्ट में उत्तर प्रदेश सरकार के अपर महाधिवक्ता का दायित्व निभा रहे थे. अजय मिश्र ने वकालत का सफर 1981 में इलाहाबाद हाईकोर्ट से शुरू किया और धीरे-धीरे नामी वकीलों में शुमार हो गए. वर्ष 2004 में वह सुप्रीम कोर्ट शिफ्ट हो गए और अपनी काबिलियत के बूते वहां वरिष्ठ अधिवक्ता बन गए.

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने बीते सात मई को नई सरकार गठन के एक महीने के बाद भी नए महाधिवक्ता की नियुक्ति न होने पर नाराजगी व्यक्त की थी और कहा था कि यह बहुत ही विकट स्थिति है, जिसे किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जा सकता. कोर्ट ने सरकार को 16 मई तक महाधिवक्ता नियुक्त करने का समय दिया था.

न्यायमूर्ति देवेंद्र कुमार उपाध्याय एवं न्यायमूर्ति सुभाष विद्यार्थी की खंडपीठ ने मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए कहा था कि संविधान के अनुच्छेद 165 के तहत महाधिवक्ता की नियुक्ति का प्रावधान है, जिसके तहत उन्हें न सिर्फ सरकार के कानूनी सलाहकार के तौर पर काम करना होता है, बल्कि उन्हें सीआरपीसी, अवमानना ​​कानून का भी निर्वहन करना होता है. साथ ही अन्य कानूनी दायित्व भी निभाने होते हैं और इन दायित्वों को किसी अतिरिक्त महाधिवक्ता या अन्य को हस्तांतरित नहीं किया जा सकता है। ऐसे में महाधिवक्ता का पद संविधान के अनुसार खाली नहीं रखा जा सकता. गौरतलब है कि महाधिवक्ता राघवेंद्र सिंह ने एक महीने पहले अपना इस्तीफा सरकार को सौंप दिया था.

Tags: Allahabad high court, Prayagraj, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here