हाई वोल्टेज ड्रामा: खाद नहीं मिली तो पेड़ पर चढ़ गया किसान, दी ऐसी धमकी कि पुलिस के हाथ-पैर फूले

0
19


बाराबंकी. किसानों को एक-एक बोरी खाद के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है. देहात के कई इलाकों में किसान ज्यादा परेशान हैं, जिसके चलते आए दिन कोई न कोई घटना सामने आ रही है. ताजा मामला भी कुछ ऐसा ही है, जब खाद नहीं मिलने से एक किसान इतना नाराज हुआ कि वह पेड़ पर चढ़कर आत्महत्या की धमकी देने लगा. सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस के भी हाथ-पैर फूल गए. पेड़ पर चढ़े किसान का पूरा वीडियो वायरल हो गया है.

बाराबंकी की रामनगर तहसील के त्रिलोकपुर कस्बे में साधन सहकारी समिति है. यहां खाद वितरण के समय बेकाबू हुए किसान सैकड़ों की तादाद में जुटे थे. आलम यह था कि किसानों को संभाल पाना कर्मचारियों और पुलिस के लिए चुनौती बन गया. जैसे ही खाद बंटना शुरू हुई, किसान उसे लेने के लिए टूट पड़े. तभी समिति केंद्र के पास रहने वाला भारत रावत नाम का एक शख्स खाद नहीं मिलने से नीम के पेड़ पर चढ़ गया. पेड़ के नीचे खड़े लोग कुछ समझ पाते तब तक वह पेड़ पर चढ़कर आत्महत्या कर लेने की धमकी देने लगा. खाद के लिए पेड़ पर चढ़े किसान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

पहले बारिश ने किया परेशान, अब बुआई का संकट
सूचना पाकर मसौली थाने के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो परेशान हो गए. पुलिस ने किसी तरह नीम के पेड़ पर चढ़े किसान भारत रावत को समझा-बुझाकर नीचे उतारा और अपने साथ थाने ले गए. दरअसल इस समय जिले की अलग-अलग साधन सहकारी समितियों से किसानों को खाद नहीं मिल पा रही है. ऐसे में किसानों को समितियों पर खाद के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है. कभी-कभी तो किसान आपस में ही भिड़ जाते हैं. किसानों का कहना है कि पहले ही बारिश के चलते उनकी धान की फसल बर्बाद हो चुकी है और उन्हें लागत तक नहीं मिल पाई है. अब खाद नहीं मिलने से परेशान हैं.

नियम के अनुसार वितरण का दावा
इस संबंध में बाराबंकी इफको केंद्र पर खाद वितरक और अन्य समिति संचालकों का कहना है कि जब भी खाद आती है, उसे नियम के अनुसार किसानों में वितरण किया जाता है. कभी-कभी खाद नहीं आने या सर्वर नहीं चलने के कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. जिसके चलते किसानों को खाद नहीं मिल पाती है.

Tags: Barabanki News, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here