हाजियों को 10 साल से मुफ्त ट्रेनिंग दे रहे शमशान खान, जानिए क्यों बताते हैं इसे जरूरी?

0
16


वसीम अहमद

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में सिविल लाइंस के निवासी शमशाद खान हज पर जाने वाले लोगों को पिछले 10 साल से मुफ्त ट्रेनिंग देने का काम कर रहे हैं. इसके पीछे मकसद है कि हज पर जाने वाले लोगों को कोई दिक्कत न पेश आए है. शमशाद हज से लौट कर आने वाले लोगों से फीडबैक भी लेते हैं ताकि वो हाजियों को और बेहतर ट्रेनिंग दे सकें. उनका मानना है कि हज जाने वाले यात्रियों के लिए कार्यशाला बहुत जरूरी है. शमशाद खान हाजियों को हज जाने से पहले कार्यशाला आयोजित कर उन्हें पूरी तरह से ट्रेनिंग देते है. ताकी सभी हाजी हज के फराइज और अरकान पूरी तरह से अदा कर सकें.

जानिए क्या कहना है शमशाद खान
न्यूज़ 18 लोकल से बात करते हुए शमशाद खान ने कहा कि हज यात्रा के दौरान लाखों की भीड़ होती है, इस वजह से हर हज यात्री को अपना आई कार्ड एवं हाथ में पहनने वाले कड़े को साथ में रखना चाहिए. भीड़ में खो जाने पर राष्ट्रीय तिरंगा शिविर के पास आकर सहायता लेनी चाहिए. हज यात्री हज के दौरान जरूरी सामान ही लेकर जाएं. वहां का तापमान लगभग 50 डिग्री तक होता है इसलिए खाने-पीने में भी संयम बरतने की जरूरत है. साथ ही भीड़ में अगर किसी वजह से कोई सामान गिर जाए तो उससे झुक कर उठाने का प्रयास नहीं करना चाहिए. ऐसा करने पर भीड़ में कुचले जाने का खतरा रहता है.

क्यों ज़रूरी है हाजियों ट्रेनिंग
शमशाद खान ने बताया की वो वर्ष 2007 में हज के लिए गए थे तब उन्होंने देखा कि हज यात्रियों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. उसी समय उन्होंने ठान लिया था कि हिंदुस्तान वापस लौट कर वो हज पर जाने वाले लोगों को फ्री ट्रेनिंग देंगे. ताकि दूसरे लोगों को हज करते समय किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना न करना पड़े. इसकी बड़ी वजह हज से पहले हज के फराइज़ (फर्ज़ काम) और अरकान (ज़रूरी रस्म) न सीखना है.

उन्होंने कहा कि सेहत को लेकर भी हर हाजी को फिक्रमंद रहना चाहिए. हमारे देश के हज यात्रियों को हज यात्रा के समय गले की जकड़न, जुकाम एवं बुखार की शिकायत अधिक देखी जाती है. उसका बड़ा कारण वहां के अधिकतम तापमान में प्यास बुझाने के लिए बर्फ से युक्त ठंडे पानी पीना है. इसके कारण गला खराब होने की शिकायत बढ़ जाती है, इसलिए वहां नॉर्मल पानी का ही उपयोग करना चाहिए. खाना उतना ही खाएं जितना आवश्यक हो. यदि हाजी इन सब बातों का ध्यान रखकर हज पर जाए तो उसके बिनी किसी परेशानी के सारे फराइज और अरकान पूरे होंगे.

Tags: Aligarh news, Haj yatra, Haj Yatri, Up news in hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here