हार के बाद आजमगढ़ पहुंचे अखिलेश यादव, BJP पर किया हमला, बोले-सूद समेत वापस लेंगे ‘किला’

0
72


हाइलाइट्स

सपा विधायक रमाकांत यादव से मिलने अखिलेश यादव जिला कारागार पहुंचे.
कहा, जनता पर भरोसा, 2024 में सूद सहित आजमगढ़ सीट को वापस लिया जाएगा.

आजमगढ. हत्या के प्रयास, जहरीली शराब कांड सहित अन्य मामले में जेल में निरुद्ध सपा विधायक रमाकांत यादव से मिलने सोमवार को समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव जिला कारागार पहुंचे. 35 मिनट तक फुलपुर पवई से विधायक रमाकांत यादव से मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी जानबूझकर समाजवादी पार्टी व विपक्ष के लोगों के पर मुकदमे लादे जा रही है. फर्जी मुकदमे लादकर बीजेपी वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी अभी से कर रही है.

सरकार के इशारे पर जेल में हैं रमाकांत
मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि 20 वर्ष पुराने मामले में सरकार के इशारे पर विधायक रमाकांत यादव को जेल में बंद किया गया. लगातार उन पर झूठे मुकदमे लादे जा रहे हैं और सरकार चाहती है कि वह जेल में रहें. उन्होंने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों से बचने के लिए भाजपा ऐसे काम कर रही है. जानबूझकर जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश की जा रही है. साथ ही विपक्ष के नेता आवाज न उठा सके इसके लिए ये लोग चिन्हित कर, झूठे मुकदमे लगाकर उन्हें जेल भेज रहे हैं.

सूद सहित आजमगढ़ सीट को वापस लेंगे
आजमगढ़ लोकसभा चुनाव में न आने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि इसकी समीक्षा हो गई है. लेकिन यहां की जनता पर उनको भरोसा है कि वर्ष 2024 में सूद सहित इस सीट को वापस लिया जाएगा. ओपी राजभर सहित अन्य नेताओं द्वारा सपा के बारे में बोलने को लेकर अखिलेश का कहना था कि कोई क्या बोल रहा है, इस पर हमें कुछ भी नहीं कहना है. लेकिन समाजवादी पार्टी का सदस्यता अभियान समाप्त होने के बाद पार्टी बड़ा फैसला लेकर सरकार के खिलाफ खड़ी दिखाई देगी.

सच स्वीकार नहीं कर रही भाजपा
अखिलेश का कहना था कि आजमगढ़ व रामपुर ही नहीं पूरे प्रदेश में विपक्ष के नेताओं पर मुकदमे लादे जा रहे हैं. प्रदेश में किसी पर भी मुकमदमा लग सकता है. उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स लिख रहा है कि दिल्ली के स्कूलो में शिक्षा व्यवस्था अच्छी हुई है लेकिन इसे भाजपा स्वीकार नही कर पा रही है. बस, मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. 1 लाख 13 हजार नौजवानों ने अग्निवीरों के लिए आवेदन किया है, सरकार यह बताए कि कितने नौजवानों को नौकरी मिलेगी? अखिलेश यादव ने दावा किया कि इनमें से दस हजार नौजवान घर वापस लौट लौट आएंगे.

निजीकरण को बढ़ावा दे रही सरकार
ओबीसी की जनगणना कराने के सवाल पर उनका कहना था, सरकार को ओबीसी और बहुजन समाज की चिंता नहीं है. बहुजन समाज की चिंता होती तो आउट सोर्स क्यों किया जाता, फौज का निजीकरण नहीं होता, जो लोग निजीकरण को बढ़ावा दे रहें तो यह बात समझ लिजिए कि बहुजन समाज के लोगों को हक व सम्मान नहीं मिलेगा. नए गठबंधन के सवाल पर कहा कि बीजेपी ने इतना बड़ा गठबंधन कर लिया है कि किसी पार्टी को छोड़ेगी तब तो गठबंधन होगा.

सैफई मेडिकल कालेज में दिव्यांग छात्र की मौत पर सपा मुखिया ने कहा कि अगर कोई जिम्मेदार है तो सबसे पहले वहां के वाइसचांसलर को हटाया जाना चाहिए. क्या वाइस चांसलर या सरकार ही उसकी जांच करेगी? उन्होंने कहा वाइस चांसलर को हटाए बिना निष्पक्ष जांच नहीं हो सकती.

Tags: Akhilesh Yadav Attack on BJP, Azamgarh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here