हुड्डा-bhupinder singh hooda said Not only government but common man participation is also necessary to avoid corona hrrm

0
19


पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि आंदोलनरत किसानों की मांगे पूरी तरह जायज़ हैं.

किसानों (Farmers) के मुद्दों पर बोलते हुए हुड्डा ने कहा कि किसानों को आज मंडियों में बड़ी भारी परेशानी हो रही है.

चंडीगढ़. पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में कहा कि कोरोना से बचाव के लिए केवल सरकार (Government) ही नहीं आम आदमी की भी भागीदारी पूरी तरह से जरूरी है. कोरोना के  नियमों का हर आदमी को सख्ती से पालन करना चाहिए.  नाइट कर्फ्यू का जो निर्णय सरकार ने लिया है वह मौके को देखते हुए लिया है. राजनीतिक रैलियों या कोई बड़े आयोजन भी कोरोना के दौरान नहीं होने चाहिए. सरकार को उस पर भी सख्ती दिखानी चाहिए. हुड्डा ने कहा कि वैक्सीन की हरियाणा में कमी है जिसे सरकार को जल्द से जल्द दूर करना चाहिए. वहीं किसानों के मुद्दों पर बोलते हुए हुड्डा ने कहा कि किसानों को आज मंडियों में बड़ी भारी परेशानी हो रही है. सरकार ने जो पोर्टल बनाया वह चल नहीं रहा. इसलिए किसान अपनी फसल बेचने को लेकर बड़ी भारी परेशानी में है. सरकार को किसानों की समस्याओं का तुरंत हल करना चाहिए. वहीं उन्होंने कहा कि कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी जल्द ही बन जाएगी. जब बनेगी तब मीडिया को बता दिया जाएगा. टोल कर्मी जिनकी नौकरियां चली गई है टोल मालिकों को उस पर ध्यान देना चाहिए और उन्हें नौकरी से नहीं निकालना चाहिए. बिजनेस में फायदे और नुकसान चलते रहते हैं गृह मंत्री द्वारा कृषि मंत्री को चिट्ठी लिखे जाने पर हुड्डा  कहा कि देर आए दुरुस्त आए. हम तो 4 महीने से कह रहे हैं कि किसानों के साथ केंद्र सरकार पॉजिटिव बातचीत करें और इस समस्या का हल निकाले. लेकिन अगर अभी भी केंद्र सरकार किसानों से बातचीत करके हल निकाल देती है तो कहीं ना कहीं अच्छा होगा. मजदूरों का पलायन हो रहा है और उनसे बस वाले कई कई गुना किराया वसूल रहे हैं उस पर हुड्डा ने कहा सरकार को सख्ती करनी चाहिए और इस तरह  किसी की मजबूरी का फायदा नहीं उठाना चाहिए.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here