14 खापों ने किसानों के साथ मिलकर PM मोदी को लिखी चिट्ठी, कृषि कानूनों को रद्द करने की लगाई गुहार

0
25


किसानों ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी

Kisan Aandolan: खापों के प्रतिनिधियों ने जींद खटकड़ टोल प्लाज़ा पर डेरा डाल दिया है. किसान आंदोलन चलने तक डटे रहने का फैसला किया है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 30, 2020, 9:25 AM IST

जींद. तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हरियाणा के जींद (Jind) के बांगर एरिया की 14 खापों और किसानों ने मिलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को चिट्ठी लिखी है. किसानों और खापों (Farmers and Khaps) ने खटकड़ टोल प्लाज़ा पर एक मीटिंग की और प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिख कर अपना विरोध जताया. उन्होंने कहा की प्रधानमंत्री रेडियो के माध्यम से लोगों से मन की बातें करते हैं. अब किसानो ने पत्र के माध्यम से अपनी आत्मा की आवाज लिखी जिसको प्रधानमंत्री को सुनना चाहिए.

सर्वजातीय खाप के नेता आज़ाद सिंह पालवा ने बताया की आज किसानों ने अपनी आत्मा की आवाज मोदी जी को चिट्ठी के माध्ययम से भेजी है. हम कृषि के तीनों कानून रद्द करवाना चाहते हैं. जब तक ये कानून रद्द नहीं होते हमारा विरोध जारी रहेगा.

वहीं खेरा खाप के प्रधान सतबीर बरसोला ने बताया की हम सरकार को उसी की भाषा में जवाब दे रहे है. अब किसान सिर्फ तीसरी क्लास पास नहीं है बल्कि हमारे बच्चे वैज्ञानिक, स्कॉलर और हर क्षेत्र में आगे है. सरकार के हर हथकंडे कका जावब अब उन्हीं के हथकंडों से दिया जाएगा.

तीनों कृषि कानूनों का विरोधबिजेंद्र सिंधु ने बताया की की किसान तीनो कृषि कानूनों का विरोध करते है इसलिए आज उनको चिट्ठी के माध्यम से गुहार लगाई गई है. हम अपनी आत्मा से बात कर रहे है और यही बात चिट्ठी से भेजने की कोशिश की है.  खापों और किसानो ने बताया की  तीनो कृषि कानून हर वर्ग के खिलाफ है इसलिए इनको रद्द किया जाये.


<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here