7 साल की उम्र से चाचा कर रहे थे दुष्कर्म, महिला ने 28 साल बाद दर्ज करवाई FIR

0
62


अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ की ये कहानी हैरान करने वाली और बेहद शर्मनाक है. बात 1986 की है. पीड़िता जब ढाई वर्ष की थी उसके पिता की मृत्यु एक सड़क दुर्घटना में हो गई थी. इसके बाद विधवा मां ने अलीगढ़ के बरला थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति से प्रेम विवाह कर लिया. 7 वर्ष की उम्र में मझले सौतेले चाचा यतेंद्र ने उसके साथ छेड़छाड़ व दुष्कर्म किया. पेट दर्द होने की जब उसने शिकायत मां से की तो मां ने गोली देकर चुप रहने को कहा. उसके बाद सबसे छोटे सौतेले चाचा सतेंद्र ने 11 वर्ष की उम्र से लेकर लगातार शादी होने तक उसके साथ दुष्कर्म किया. विरोध के नाम पर उसे डरा धमका कर रखा जाता था.

2011 में पीड़िता की शादी अलीगढ़ में रहने वाले एक फौजी युवक से हुई. जिससे पीड़िता की दो बेटियां हैं. पति ने वीआरएस लेकर अलीगढ़ में अपना व्यापार शुरू कर दिया. सब कुछ ठीक-ठाक चलता रहा. पति जब भी अपनी पत्नी से मायके जाने ही कहता था वह इंकार कर देती. 2019 में युवती अपने सौतेले भाई के साथ मायके पहुंची तो फिर उसके साथ वही दोहराने की कोशिश हुई. हालांकि इस बार उसने सख्ती से विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई और धमकाया कि तेरी शादी शुदा जिंदगी को बर्बाद कर देंगे. तेरे पति को फर्जी आरोपों में जेल भिजवा देंगे.

परेशान पत्नी से जब पति ने पूछा तो उसने सारा दर्द बयां कर दिया. इसके बाद पति ने अपनी पत्नी का साथ दिया और हर मोर्चे पर उस को न्याय दिलाने की ठानी. पति के सहयोग से पीड़िता ने आईजीआरएस पोर्टल से लेकर तमाम अधिकारियों को पत्र लिख मामले की जानकारी दी. जिसके बाद अब अलीगढ़ पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर थाना बन्नादेवी में मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस अधिकारी शिव कुमार ने बताया कि एक प्रकरण संज्ञान में आया है, जिसमें महिला द्वारा अपने सौतेले चाचाओं पर बलात्कार का आरोप लगाया है. इसमें संज्ञान लेते हुए महिला थाने में अभियोग पंजीकृत करा दिया गया है. विधिक कार्यवाही प्रारंभ की गई है.

Tags: Rape, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here