Agra: सुप्रीम कोर्ट के फैसले से ताजगंज के 50 हजार दुकानदारों की लौटीं खुशियां, जमकर मनाया जश्न

0
17


रिपोर्ट: हरिकांत शर्मा

आगरा. यूपी के आगरा के ताजगंज वासियों ने सही मायने में बुधवार को अपनी दिवाली मनाई.दरअसल उन्होंने एक बड़ी लड़ाई जीती है. ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में व्यवसायिक गतिविधियों को बंद किए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला ताजगंज वासियों के पक्ष में आया है. इस फैसले से लगभग 50 हजार दुकानदारों की खुशियां लौट आई हैं. बुधवार दोपहर को जैसे ही फैसला ताजगंज व्यापारियों के पक्ष में आया, तो ढोल नगाड़ों के साथ व्यापारियों सड़कों पर उतर कर जश्न मनाया. दुकानदारों ने जमकर डांस किया और एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया.

ताजगंज इलाके के व्यापारियों और निवासियों का स्थानीय रोजगार बंद होने की कगार पर था. लोगों ने अपनी रोजी-रोटी बचाने के लिये की बकायदा संघर्ष समिति बनाई थी.जो सुप्रीम कोर्ट में अपने हक की लड़ाई लड़ रही थी. सही मायनों में संघर्ष समिति का संघर्ष काम आया. ताजगंज वासियों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय लिया और 500 मीटर के दायरे में कमर्शियल एक्टिविटीज बंद किए जाने वाले फैसले को वापस लिया है.साथ में आगरा विकास प्राधिकरण के द्वारा जारी किए गए नोटिस भी व्यवसायियों से वापस लिए जाएंगे.

यह था पूरा मामला
ताजमहल पश्चिमी गेट पार्किंग एसोसिएशन ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका डाली थी, जिसको लेकर 26 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया था. उस फैसले में ताजमहल की परिधि के 500 मीटर के दायरे में जितनी भी कमर्शियल एक्टिविटीज हो रही थीं, उन्हें तत्काल हटाने का निर्देश दिया था. इस फैसले से लगभग 50 हजार लोंगो का रोजगार खतरे में आ गया था. लोगों के जहन में डर इस कदर बैठा कि एक व्यक्ति की जान भी चली गई थी. कई बार सुनवाई टली,लेकिन बुधवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला ताजगंज वासियों के पक्ष में आया तो चारों तरफ खुशी की लहर दौड़ गई.

Tags: Agra Mayor, Agra Municipal Corporation, Agra news, Taj mahal



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here