Attack on nsg commando rajeev bhadauria in etawah farmers saved life nodbk – इटावा में NSG कमांडो पर दबंगों का हमला, बोला

0
155


इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां के बकेवर इलाका स्थित फतेहपुरा गांव में दबंगों ने एनएसजी कमांडो पर जानलेवा हमला (Attack On NSG Commando) किया है. इस हमले में एनएसजी कमांडो के जवान घायल हो गए हैं. वहीं, जवान ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए दबंगों का साथ देने की बात कही है. कहा जा रहा है कि एनएसजी कमांडो के पर दबंगों ने कल शाम को हमला किया है. कमांडो ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. इसके बावजूद भी दबंगों ने कमांडो के ऊपर जानलेवा हमला कर दिया.

वहीं, ग्रामीणों ने दबंगों से एनएसजी कमांडो को बचाया. ग्रामीणों ने कहा कि हवाई फायरिंग और लाठी- डंडों से हमला किया गया है. इस हमले में बुरी तरह घायल कमांडो का कहना है कि पान सिंह तोमर बनने पर मजबूर न करें. पीड़ित जवान एसएसपी के पास जान बचाने की गुहार लगाने जा पास पहुंचा. जवान का कहना है कि देश को सर्वाेच्च सुरक्षा देने वाले राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड ही सुरक्षित नहीं हैं. वहीं बकेवर थाना पुलिस की बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है. एनएसजी कमांडो के ऊपर दो दिन में दो बार जानलेवा हमला हुआ है. साथ ही लूटपाट की वारदात को भी अंजाम दिया गया.

किसानों ने दबंगों से NSG कमांडो को बचाया

इटावा मुख्यालय पहंच कर पीड़ित एनएसजी कमांडो राजीव भदौरिया ने बताया कि रविवार शाम को बकेवर थाना क्षेत्र के फतेहपुरा गांव में उनके बड़े भाई संजीव भदौरिया और भतीजे शिवांशु भदौरिया के साथ गांव के ही दबंगों ने जमीन विवाद को लेकर मारपीट कर दी, जिसके बाद पीड़ित राजीव ने थाना बकेवर में इसकी शिकायत दर्ज करवाई. आज सुबह पीड़ित अपने गांव से थाने पर जा रहा था. तभी दो दर्जन लोगों ने घेर कर एनएसजी कमांडों के ऊपर फिर से हमला बोल दिया. मारपीट करते हुए हवाई फायरिंग कर दी. पर खेत पर मौजूद किसानों ने दबंगों से एनएसजी कमांडो को बचाया.

जवान के साथ पहले भी हुई थी मारपीट

एनएसजी जवान राजीव ने पत्रकारों से बताया कि वह देश की सुरक्षा के लिए तैनात है, लेकिन उसकी सुरक्षा कोई नहीं कर रहा है. उसके गांव के दबंग पुश्तैनी जमीन को लेकर आये दिन हमें और मेरे परिवार के साथ गाली-गलौज करते हैं. 2016 में भी इन लोगों ने मारपीट की थी. राजीव ने कहा कि हमें पान सिंह तोमर बनने पर मजबूर न करें. अगर मेरे परिवार की सुरक्षा पुलिस नहीं कर सकती तो कहीं हमें मजबूरी हथियार न उठाना पड़ें. राजीव ने बकेवर पुलिस को ही सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि दबंगों पर कार्रवाई तो नहीं हुई, बल्कि बकेवर पुलिस एनएसजी कमांडो के घर पर ही पहुंच गयी और परिजनों से अभद्रता की.

पुलिस की दलील

इस पूरे प्रकरण को लेकर एसओ बकेवर ने बताया कि इन दोनों ही पक्षों के बीच आये दिन वाद-विवाद होता रहता है. कल शाम को सूचना मिली थी कि दो पक्षों में विवाद हुआ था, तब मौके पर गए थे, लेकिन दोनों ही पक्ष नहीं मिले. आज फिर से एनएसजी कमांडो राजीव ने झगड़े की सूचना दी, लेकिन जब इनके घर गए तो कहीं कोई वाद- विवाद नहीं मिला. उनको फोन कर बुलाया जा रहा था, लेकिन वह नहीं आए.

आपके शहर से (इटावा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Etawah news, NSG, Up crime news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here