Avani Lekhara मिश्रित 10 मीटर एयर राइफल प्रोन के क्वालीफिकेशन से बाहर, 2 दिन पहले जीता थ गोल्‍ड Tokyo Paralympics 2020 Avani Lekhara fails to qualify for Mixed 10m Air Rifle Prone – News18 Hindi

0
20


टोक्यो. 2 दिन पहले पैरालंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी निशानेबाज अवनि लेखरा (Avani Lekhara) बुधवार को यहां मिश्रित 10 मीटर एयर राइफल प्रोन एसएच1 स्पर्धा के क्वालीफिकेशन दौर से ही बाहर हो गई. एसएच1 (राइफल) वर्ग में वे खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं, जिनके ऊपरी अंगों में कोई समस्या नहीं होती, लेकिन नीचे के एक या दोनों अंगों में समस्या होती है. अवनि बिलकुल भी लय में नहीं दिखी और 629.7 अंक के साथ निराशाजनक 27वें स्थान पर रहते हुए तीसरे दौर में बाहर हो गई.

पुरुष वर्ग में हिस्सा ले रहे अन्य भारतीय पैरा निशानेबाज सिद्धार्थ बाबू और दीपक कुमार का असाका निशानेबाजी रेंज पर प्रदर्शन और भी अधिक लचर रहा. सिद्धार्थ 625.5 अंक के साथ 40वें जबकि दीपक 624.9 अंक के साथ 43वें स्थान पर रहे.

US Open: नंबर-1 नोवाक जोकोविच 4 सेट में जीते, रिकॉर्ड 21वें टाइटल से 6 कदम दूर

Tokyo Paralympics: फाइनल से हटना चाहते थे शरद कुमार, फिर भगवत गीता पढ़कर जीता मेडल

2 दिन पहले जीता था गोल्‍ड
इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक जर्मनी की नताशा हिल्ट्रॉप ने जीता, जबकि सिल्‍वर मेडल साउथ कोरिया के पार्क जिन्हो और कांस्य पदक युक्रेन की इरिना शेटनिक के खाते में गया. पैरालंपिक में पदार्पण कर रही 19 साल की अवनि ने इतिहास रचते हुए आर2 महिला 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग एसएच1 में स्वर्ण पदक के साथ भारत को पैरालंपिक में निशानेबाजी का पहला पदक दिलाया था. उन्होंने 249.6 अंक के साथ विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की थी. अवनि की रीढ़ की हड्डी में 2012 में कार दुर्घटना के दौरान चोट लगी थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here